Breaking :
||झारखंड में पांचवें चरण का चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न, आचार संहिता उल्लंघन के सात मामले दर्ज||लातेहार में शांतिपूर्ण माहौल में मतदान संपन्न, 65.24 फीसदी वोटिंग||झारखंड में गर्मी से मिलेगी राहत, गरज के साथ बारिश के आसार, येलो अलर्ट जारी||चतरा, हजारीबाग और कोडरमा संसदीय क्षेत्र में मतदान कल, 58,34,618 मतदाता करेंगे 54 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला||चतरा लोकसभा: भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधी टक्कर, फैसला जनता के हाथ||भाजपा की मोटरसाइकिल रैली पर पथराव, कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट, कई घायल||झारखंड की तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार थमा, 20 मई को वोटिंग||पिता के हत्यारे बेटे की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त बंदूक बरामद समेत पलामू की तीन ख़बरें||चतरा लोकसभा क्षेत्र के नक्सल प्रभावित इलाके में नौ बूथों का स्थान बदला, जानिये||झारखंड हाई कोर्ट में 20 मई से ग्रीष्मकालीन अवकाश
Tuesday, May 21, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार व्यवहार न्यायालय के सहायक से साइबर अपराधियों ने ठगे 44514 रुपये

लातेहार : लातेहार व्यवहार न्यायालय के सहायक मनोज कुमार से साइबर अपराधियों ने 44514 रुपये की ठगी कर ली। सहायक मनोज कुमार ने इस संबंध में लातेहार सदर थाने में लिखित शिकायत दर्ज करा कर मदद की अपील की है। वर्तमान में वे धर्मपुर मुहल्ला निवासी रामप्यारे राम के मकान में किराये पर रहते हैं।

आवेदन में सहायक मनोज कुमार ने बताया है कि उन्होंने 28 मई की शाम Google से Flipkart कस्टमर केयर का नंबर ढूंढा । गूगल से मिले नंबर 9827259084 पर कॉल किया और अपनी प्रीपेड अमाउंट जिसका ऑर्डर कैंसिल हो चुका था को वापस क्रेडिट करने के लिए अपने मोबाइल नंबर 62020***** से कॉल किया। इस सम्बन्ध में फ्लिपकार्ट कस्टमर केयर ने एक अन्य नंबर से फोन आने की बात कही।

आगे बताया है कि उसी दिन शाम को मेरे मोबाइल पर 9380980856 से फोन आया। कॉल पर उन्हें प्रीपेड अमाउंट क्रेडिट करने के लिए AnyDesk App डाउनलोड करने को कहा गया। साथ ही उसमें एटीएम कार्ड संख्या व उसका एक्सपायरी डेट डालने को कहा गया। ऐसा करने पर मेरे बचत खाता संख्या (491801000******) जो बैंक ऑफ इंडिया लोहरदगा शाखा का है, से 44514 रुपये की निकासी कर ली गई।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

सदर थाना के इंस्पेक्टर सह थाना प्रभारी अमित कुमार गुप्ता ने बताया की सहायक मनोज कुमार दिए गए आवेदन के आधार पर प्राथमिकी दर्ज करते हुए मामले की छानबीन की जा रही है।

advt

लातेहार व्यवहार न्यायालय