Breaking :
||लातेहार: बूढ़ा पहाड़ इलाके में नक्सलियों द्वारा छिपाये गये अत्याधुनिक हथियार व अन्य सामान बरामद||रांची हिंसा मामले में डीसी ने 11 आरोपियों पर मुकदमा चलाने की मांगी अनुमति||धनबाद आशीर्वाद टावर फायर मामले में हाई कोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान, सरकार से पूछा- अबतक क्या की गयी कार्रवाई||चाईबासा: IED ब्लास्ट में एक बार फिर तीन जवान घायल, एयरलिफ्ट कर लाया गया रांची||लातेहार: बालूमाथ में सड़क हादसे में घायल युवक की इलाज के दौरान मौत, 17 फरवरी को होनी थी शादी||तैयारी में जुटे छात्र ध्यान दें: झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने एक दर्जन प्रतियोगी परीक्षाओं के विज्ञापन किये रद्द||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन

कोविड वैक्सीन कार्ड बनाने के नाम पर ठगी करने वाला साइबर अपराधी गिरफ्तार

प्रदीप यादव/हेरहंज

लातेहार : हेरहंज थाना पुलिस ने देवघर में छापामारी कर एक साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी राजेन्द्र कुमार पिता देवी प्रसाद महरा, ग्राम-लीलुडीह, थाना-जसीडीह, जिला-देवघर को तीन मोबाइल के साथ उसके घर से गिरफ्तार किया है।

प्रेस वार्ता में जानकारी देते हुए एसडीपीओ बालूमाथ अजित कुमार ने बताया कि हेरहंज थाना क्षेत्र के चिरु पंचायत अंतर्गत लावागड़ा निवासी अरविंद उरांव, पिता-नागेश्वर उरांव ने साइबर अपराध के खिलाफ 19 मई को लिखित आवेदन देकर मामला दर्ज कराया था।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पीड़ित अरविंद उरांव ने आवेदन में बताया था कि मेरे मोबाइल नंबर 9334899168 पर 6297081456 से फोन आया और बताया गया कि आपकी कोविड-19 की खुराक पूरी हो गई है। मैं सदर अस्पताल से बोल रहा हूं। खुराक पूरी होने के बाद भी अभी तक आपका वैक्सीन कार्ड नहीं बना है। आगे कहा कि आपके मोबाइल पर एक ओटीपी नंबर आया है, आप मुझे वो ओटीपी नंबर बताओ।

मैंने बिना कुछ समझे उसे ओटीपी नंबर बता दिया। जिसके बाद मेरे मोबाइल नंबर 9334899168 एयरटेल पेमेंट बैंक अकाउंट से 88 हजार रुपये कट गए। उसके कुछ देर बाद उसी खाते से 1198 रुपये कट गए।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

उन्होंने बताया कि पीड़ित के आवेदन के आधार पर मामला दर्ज कर थाना प्रभारी मुकेश चौधरी के नेतृत्व में पुलिस अवर निरीक्षक बिंदेश्वर महतो व अन्य पुलिस बल के जवानों की टीम गठित कर अनुसंधान शुरू किया गया।

इसे भी पढ़ें :- कोविड वैक्सीन कार्ड बनाने के नाम पर साइबर अपराधियों ने ग्रामीण युवक के खाते से उड़ाए 90 हजार रुपये, थाना ने आवेदन लेने से किया इनकार

अनुसंधान के क्रम में आरोपी को घटना में प्रयुक्त तीन मोबाइल के साथ उसे ग्राम लीलुडीह, थाना जसीडीह, जिला देवघर से गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि हेरहंज थाने में साइबर अपराध से जुड़ा पहला मामला है जिसका खुलासा कर दिया गया है। आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।