Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
गारूलातेहार

मोबाइल बैंकिंग से विकलांग बुजुर्ग के खाते से 6000 की ठगी, कारवाई की मांग

गोपी कुमार सिंह/गारू

लातेहार : ज़िले के गारू प्रखंड अंतर्गत कोटाम पंचायत से मोबाइल बैंकिंग के माध्यम से ठगी करने का मामला उजागर हुआ है। मामले का खुलासा ख़ुद कोटाम निवासी भुक्तभोगी बुजुर्ग विकलांग जगरनाथ साव ने किया है।

इस संबंध में विकलांग जगरनाथ साव ने बताया कि वृद्धा पेंशन का राशि खाता में आया हुआ था। जिसे निकालने के लिए वह कोटाम निवासी रौशन कुमार के यहां गये थे। जहाँ कई बार फिंगरप्रिंट लेने के बाद लिंक काम नही करने का हवाला देते हुए वापस घर भेज दिया गया। बाद में नजदीकी बैंक में जाकर पासबुक अपडेट करने पर पता चला कि खाते से लगभग 6 हजार रुपये की निकासी रौशन कुमार नामक फोन बैंकिंग संचालक के यहां से हुई है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बहरहाल उक्त फ़ोन बैंकिंग संचालक पर कई अन्य लोगों से भी फर्जी निकासी का आरोप स्थानीय ग्रामीणों ने लगाया है। आपको जानकारी देते चले कि फ़ोन बैंकिंग के माध्यम से इनदिनों ठगी के मामले लगातार सामने आ रहे है। लेकिन ऐसे लोगो पर कार्रवाई नही होने के कारण इनकी तादाद बढ़ रही है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

लिहाजा भोले-भाले आदिवासियों का पैसा निकासी कर लिया जा रहा है। क्यों कि अशिक्षित होने के कारण उन्हें समय से पैसा निकासी होने की जानकारी नही मिल पाती है। बहरहाल विकलांग बुजुर्ग जगरनाथ शाव ने संबंधित फ़ोन बैंकिंग संचालक पर जांच कर कारवाई करने की मांग की है।