Breaking :
||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी||चाईबासा: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, AK-47 समेत अन्य हथियार बरामद

चंदवा: पुलिस और झामुमो नेता की पहल पर दो पक्षों में गहराया विवाद सुलझा, बड़ी अनहोनी टली

लातेहार : चंदवा प्रखंड अंतर्गत माल्हन पंचायत के केकराही गांव में तालाब मरम्मत योजना को लेकर जितेंद्र गंझू, विजय गंझू और दूसरा पक्ष भीम गंझू, अर्जुन गंझू, गंगाधर गंझू, मंटू गंझू, जयमंगल गंझू, मनोज गंझू आमने-सामने आ गए।

पहले पक्ष जितेंद्र गंझू तालाब की जमीन पर दावा कर रहे थे, वहीं दूसरी तरफ भीम गंझू व अन्य इसे सरकारी जमीन बता रहे थे। इसे लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद और गहरा गया।

इसके समाधान के लिए ग्रामीणों ने गांव में ग्राम सभा भी की, लेकिन पहले पक्ष ने नहीं सुनी. यहां एक सप्ताह तक विवाद बढ़ता गया और मामले को लेकर पहला पक्ष थाने पहुंच गया। जिसके बाद दूसरे पक्ष के लोगों को भी थाने में बुलाया गया।

इसकी जानकारी ग्रामीणों ने झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य दीपू कुमार सिन्हा को भी दी। श्री सिन्हा ने ग्रामीणों को थाने पहुंचने की सलाह दी। इसके बाद दूसरे पक्ष सहित गांव के सैकड़ों लोग ग्रामीण थाने पहुंचे। श्री सिन्हा ने पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी आशुतोष कुमार को मामले में उत्पन्न विवाद से अवगत कराया।

इसके बाद निरीक्षक सह थाना प्रभारी, झामुमो नेता व पंचायत समिति सदस्य कांति देवी, मुखिया मानती देवी, उप मुखिया बिरसी देवी समेत सैकड़ों ग्रामीणों की मौजूदगी में फिर बैठक हुई। इसमें दोनों पक्षों ने आपसी सहमति से उपजे विवाद को सुलझा लिया है। विवाद शांत होने के बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।

बैठक में रूपलाल गंझू, बबीता देवी, रामकिशुन गंझू, लक्ष्मण गंझू, दिलीप गंझू, हरिलाल गंझू समेत सैकड़ों ग्रामीण मौजूद थे।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें