Breaking :
||जहां कभी लगती थी माओवादियों की जन अदालत आज वहां लग रही है सरकार की अदालत||अंतरराष्ट्रीय कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर ने कहा- जो पुरुष परस्त्री के साथ घूमता है, वह नरक में जाता है||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात बीमारी से सात पशुओं की मौत, दो अन्य बीमार, मुआवजे की मांग||चीन में फैली रहस्यमयी बीमारी को देखते हुए रांची स्वास्थ्य विभाग ने शुरू की तैयारी, लोगों को दी सलाह||नेटबॉल प्रतियोगिता के विजेता खिलाड़ियों ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात||पलामू के TSPC एरिया कमांडर की रिम्स में इलाज के दौरान मौत||केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 30 को आयेंगे रांची||कटे-फटे कपड़े पहनना दरिद्रता की पहचान, सनातन की नहीं : देवकीनंदन ठाकुर||दिल्ली पुलिस ने फर्जी वेबसाइट के जरिये करोड़ों की ठगी करने के आरोपी को पलामू से पकड़ा||पलामू: शादी की सालगिरह पर पति का इंतजार कर रही महिला की तड़प-तड़प कर मौत
Wednesday, November 29, 2023
मनिकालातेहार

मनिका में भाजपा कार्यकर्ताओं ने निकाला मौन जुलूस, विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस पर जताया रोष

कौशल किशोर पांडेय/मनिका

लातेहार : मनिका प्रखंड मुख्यालय में भाजपा कार्यकर्ताओं ने मंडल अध्यक्ष अजीत कुमार की अध्यक्षता में भारत पाकिस्तान बंटवारे के विरोध में मौन जुलूस निकाला। इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस पर रोष जताया।

Kidzee Ad

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मौके मंडल अध्यक्ष ने कहा कि भारत का बंटवारा तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने धर्म के नाम पर कराया। उसी के कारण पूरा देश आज तबाह हो रहा है। इस दौरान भाजपा कार्यकर्ता हाथों में तख्तियां लेकर प्रखंड के पचफेड़ी चौक से उच्च विद्यालय मैदान तक मौन जुलूस निकालकर भारत विभाजन पर अफसोस जताया।

भाजपा कार्यकर्ता हाथ में तख्तियां लिए थे जिस पर लिखा था “मजहब के नाम पर हुआ था देश का बंटवारा, विभाजन की विभीषिका ने करोड़ों को उजाड़ा”,बंटवारे का दर्द भुलाने न देना, 14अगस्त फिर से दुहराने ने देना, 14अगस्त को विभाजन की आई थी आंधी, नफरत और हिंसा ने तब मचाई थी तबाही” समेत कई नारे लिखे थे।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

मौके पर शंकर दुबे, भरत प्रसाद, विश्वनाथ राय, धर्मजीत राय, घनश्याम प्रसाद, अमित राय, संतोष दुबे, अमरदीप कुमार, संदीप उरांव, दिनेश प्रसाद, बिनोद यादव समेत अनेक कार्यकर्ता मौजूद थे।