Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, मायके वालों ने लगाया हत्या का आरोप||लातेहार: मनिका में सड़क निर्माण स्थल पर उग्रवादियों का हमला, JCB मशीन में लगायी आग||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान

Betla National Park: तीन महीने बाद कल से पर्यटकों के लिए खुल जाएगा बेतला नेशनल पार्क

अख्तर/बेतला

लातेहार : पिछले तीन महीने से बंद बेतला नेशनल पार्क अब पर्यटकों से गुलजार होने वाला है। यह पार्क शनिवार यानि 1 अक्टूबर से खुल जाएगा। जिसके बाद देश-विदेश के पर्यटक इस पार्क का लुत्फ उठा सकेंगे। पीटीआर प्रबंधन के द्वारा इसको लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गयीं हैं। पार्क के खुलने से आसपास मौजूद होटलों, दुकानों व गाइड की भी कमाई शुरू हो जाएगी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

दरअसल, जानवरों के प्रजनन काल को देखते हुए पार्क हर साल तीन महीने के लिए बंद कर दिया जाता है। जुलाई से यह पार्क बंद था। पीटीआर का बेतला नेशनल पार्क पर्यटकों का सबसे बड़ा केंद्र है।

पीटीआर प्रबंधन ने पर्यटकों के लिए खास योजना बनायी है। बेतला नेशनल पार्क में स्कूली बच्चों के लिए जंगल सफारी शुरू की जाएगी। पीटीआर निदेशक कुमार आशुतोष ने कहा कि स्कूली बच्चों को पर्यटन गतिविधि से जोड़ने की पहल की जा रही है। जंगल सफारी के लिए 25 सीटर वाहन उपलब्ध कराया जाएगा। शिक्षण संस्थानों को वाहनों के माध्यम से पर्यटन गतिविधि से जोड़ा जाएगा। पार्क खुलते ही यह व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

पीटीआर का बेतला नेशनल पार्क झारखंड की राजधानी रांची से लगभग 160 किमी, जबकि मेदिनीनगर से 26 किमी दूर है। पीटीआर का इलाका पूरे देश में इको-टूरिस्ट के लिए मशहूर है। पर्यटकों के आकर्षण के लिए बेतला में एक ट्री हाउस भी बनाया गया है। बाघ, हिरण, सांभर, हाथियों आदि को देखने के लिए पर्यटक पीटीआर पहुंचते हैं। पलामू टाइगर रिजर्व के क्षेत्र में बेतला नेशनल पार्क, मिर्चइया जलप्रपात, लोध जलप्रपात, पलामू किला, फारेस्ट बांग्ला, लोध जलप्रपात, नेतरहाट के कई क्षेत्र शामिल हैं जो इको टूरिज्म के लिए बहुत प्रसिद्ध हैं।