Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
बरवाडीहलातेहार

Betla National Park: तीन महीने बाद कल से पर्यटकों के लिए खुल जाएगा बेतला नेशनल पार्क

अख्तर/बेतला

लातेहार : पिछले तीन महीने से बंद बेतला नेशनल पार्क अब पर्यटकों से गुलजार होने वाला है। यह पार्क शनिवार यानि 1 अक्टूबर से खुल जाएगा। जिसके बाद देश-विदेश के पर्यटक इस पार्क का लुत्फ उठा सकेंगे। पीटीआर प्रबंधन के द्वारा इसको लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गयीं हैं। पार्क के खुलने से आसपास मौजूद होटलों, दुकानों व गाइड की भी कमाई शुरू हो जाएगी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

दरअसल, जानवरों के प्रजनन काल को देखते हुए पार्क हर साल तीन महीने के लिए बंद कर दिया जाता है। जुलाई से यह पार्क बंद था। पीटीआर का बेतला नेशनल पार्क पर्यटकों का सबसे बड़ा केंद्र है।

पीटीआर प्रबंधन ने पर्यटकों के लिए खास योजना बनायी है। बेतला नेशनल पार्क में स्कूली बच्चों के लिए जंगल सफारी शुरू की जाएगी। पीटीआर निदेशक कुमार आशुतोष ने कहा कि स्कूली बच्चों को पर्यटन गतिविधि से जोड़ने की पहल की जा रही है। जंगल सफारी के लिए 25 सीटर वाहन उपलब्ध कराया जाएगा। शिक्षण संस्थानों को वाहनों के माध्यम से पर्यटन गतिविधि से जोड़ा जाएगा। पार्क खुलते ही यह व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

पीटीआर का बेतला नेशनल पार्क झारखंड की राजधानी रांची से लगभग 160 किमी, जबकि मेदिनीनगर से 26 किमी दूर है। पीटीआर का इलाका पूरे देश में इको-टूरिस्ट के लिए मशहूर है। पर्यटकों के आकर्षण के लिए बेतला में एक ट्री हाउस भी बनाया गया है। बाघ, हिरण, सांभर, हाथियों आदि को देखने के लिए पर्यटक पीटीआर पहुंचते हैं। पलामू टाइगर रिजर्व के क्षेत्र में बेतला नेशनल पार्क, मिर्चइया जलप्रपात, लोध जलप्रपात, पलामू किला, फारेस्ट बांग्ला, लोध जलप्रपात, नेतरहाट के कई क्षेत्र शामिल हैं जो इको टूरिज्म के लिए बहुत प्रसिद्ध हैं।