Breaking :
||लातेहार: अब मनिका के डुमरी में दिखा आदमखोर तेंदुआ, गांव में मचा कोहराम, घर में दुबके लोग||लातेहार: किडजी प्री स्कूल में “विद्यारंभ संस्कार” का आयोजन, अभिभावक आमंत्रित||रांची: 10 लाख का इनामी PLFI सब जोनल कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरफ्तार||राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 22 अधिकारियों और कर्मचारियों को करेंगे सम्मानित||आईईडी ब्लास्ट में फिर एक जवान घायल, लाया गया रांची||लातेहार जिले के लिए गौरव भरा पल…राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर राज्यपाल ने डीसी को किया सम्मानित||पलामू में अंतरराज्यीय गिरोह के नौ अपराधी गिरफ्तार, दो करोड़ की रंगदारी मांगने सहित आधा दर्जन मामलों का खुलासा||25 लाख के इनामी माओवादी नवीन यादव ने किया आत्मसमर्पण, 100 से अधिक बड़े नक्सली हमलों में रहा है शामिल||मतदाता सूची सुधार एवं आधार प्रमाणीकरण कार्य में लातेहार जिला झारखंड में अव्वल, डीसी होंगे सम्मानित||पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया PLFI का एरिया कमांडर, हथियार बरामद

महुआडांड़ में अगले आदेश तक डायमंड रिंग्स व महाराजा मिक्सर की खरीद बिक्री पर पाबंदी

लातेहार : जिले के चंदवा प्रखंड के परसाही गांव के दो बच्चों की पैकेट बंद खाद्य सामग्री खाने से मौत हो गई है, बाकी दो का इलाज चल रहा है। इन बच्चों के माता-पिता ने बताया कि डायमंड रिंग्स और महाराजा मिक्सर जैसे पैकेज्ड फूड आइटम्स के सेवन से उनके बच्चों की तबीयत खराब हो गई। दोनों खाद्य पदार्थों के नमूने जांच के लिए खाद्य प्रयोगशाला भेजे गए हैं।

इस संबंध में महुआडांड़ अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा ज्ञापन क्रमांक 90 एवं दिनांक 8/6 2022 में निर्देश जारी किया गया है कि महुआडांड़ अनुमंडल क्षेत्र के समस्त नागरिकों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए खाद्य विक्रेताओं एवं व्यापारियों को सतर्कता हेतु निर्देशित किया जाता है कि डायमंड रिंग्स और महाराजा अगले आदेश तक मिक्सर को न तो खरीदेंगे और न ही बेचेंगे। खरीद-बिक्री करते पाए जाने पर उनके खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

वही दूसरा पत्र जारी कर कहा गया है कि अनुमंडल क्षेत्र के अंतर्गत विशेष निगरानी रखने के लिए आम जनता से अनुरोध किया गया है कि वह पैकेटबंद खाद्य सामग्री का उपयोग एक्सपायरी डेट और पैकेज्ड की आवश्यक जानकारी प्राप्त करने के बाद ही सुनिश्चित करें।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इसके साथ ही सभी थोक विक्रेताओं और खुदरा विक्रेताओं को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं कि जांच के दौरान नकली खाद्य पदार्थों की समाप्ति तिथि या भंडारण और बिक्री के संबंध में शिकायत प्राप्त होने पर खाद्य सामग्री एफएसएसआई मानक के अनुसार बेची जाए। फिर संबंधित विक्रेताओं से संपर्क किया जाएगा। संबंधित धाराओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर सख्त कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। इसे गंभीरता से लेने की बात कही जा रही है। साथ ही जरूरी निर्देशों को समझने को भी कहा है।