Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज
Saturday, June 15, 2024
बालूमाथलातेहार

बालूमाथ के पत्रकार ने आधी रात को रक्तदान कर बचाई महिला की जान

यह जावेद की 40वीं रक्तदान था

लातेहार : बालूमाथ के पत्रकार सह समाजसेवी जावेद अख्तर ने रातू के वरदान अस्पताल में भर्ती बबीता देवी नाम की गर्भवती महिला की जान बचाने के लिए देर रात रक्तदान किया।

लातेहार जिला अंतर्गत बालूमाथ के तसतबार निवासी स्वर्गीय मदन ठाकुर की गर्भवती पुत्री बबीता देवी के पेट में बच्चा मर गया था। बबीता की शादी उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद (अब प्रयागराज) में सोनू ठाकुर से हुई है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बबीता प्रसव के लिए अपना मायके बालूमाथ आई हुई थी। इसी बीच पेट दर्द उठने के बाद बबीता को उसकी विधवा मां डिलेवरी के लिए रांची के सदर हॉस्पिटल ले गई। जहां डॉक्टरों ने जवाब दे दिया।

इसके बाद उसे रांची के रातू स्थित वरदान हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां डॉक्टर का कहना था कि इस महिला के शरीर में हीमोग्लोबिन बहुत कम है और ऑपरेशन कर मृत बच्चा को जल्दी बाहर निकालना होगा। नहीं तो इस गर्भवती महिला की भी जान जा सकती है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

आधी रात को अपनी बेटी की जान बचाने के लिए उसकी विधवा मां बहुत परेशान थी। डॉक्टर ब्लड उपलब्ध हुए बगैर ऑपरेशन करने लिए तैयार नहीं थे। किसी तरह इस बात की जानकारी पत्रकार जावेद अख्तर को हुई। देर रात रांची के रिम्स स्थित ब्लड बैंक में जाकर जावेद अख्तर ने रक्तदान कर बबीता देवी को खून उपलब्ध कराया और उसकी जान बचाई। मौके पर पीड़ित महिला के परिजनों ने जावेद के प्रति आभार जताया।