Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

बालूमाथ पुलिस ने बिछड़े बच्चे को परिजनों से मिलाया, परिजनों ने पुलिस का जताया आभार

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : बालूमाथ प्रखंड मुख्यालय में बिछड़े 4 वर्षीय बच्चे को शनिवार को पुलिस ने मानवता का परिचय देते हुए परिवार से मिलवाया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

यह बच्चा मोहम्मद अयान अंसारी उर्फ गोलू पुत्र समीम अंसारी बालूमाथ थाना सीमा क्षेत्र से सटे हेरहंज थाना क्षेत्र के हुबू गांव के अंसार मोहल्ला निवासी है। वह अपने माता-पिता और दादी के साथ बालूमाथ आया था। जो जाकिर गली होते हुए बालूमाथ थाने के पास टेंपो स्टैंड से भटकते हुए महावीर मंदिर चौक के पास पहुंच गया था। बच्चे को रोते देख स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना थाने को दी।

बालूमाथ थाना पुलिस ने तत्काल सक्रिय भूमिका निभाते हुए रोते हुए बच्चे को कब्जे में लिया और उक्त बच्चे का सोशल मीडिया के माध्यम से प्रचार-प्रसार कराया। उसके बाद सोशल मीडिया के जरिए बच्चे के परिजनों को सूचना मिली और परिजन बालूमाथ थाना परिसर पहुंचे और अपना बच्चा होने का दावा किया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

मौके पर मौजूद बालूमाथ थाने के पुलिस अवर निरीक्षक संजय चौधरी व पुलिसकर्मी लाडले हसन ने परिजनों द्वारा पुख्ता सबूत देकर उक्त बच्चे को उसके पिता शमीम अंसारी व मां को सौंप दिया। उसके बाद बिछड़े बच्चे के परिवार ने राहत की सांस ली और बालूमाथ थाना पुलिस का आभार जताया।