Breaking :
||तैयारी में जुटे छात्र ध्यान दें: झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने एक दर्जन प्रतियोगी परीक्षाओं के विज्ञापन किये रद्द||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी

परीक्षा केंद्र पर दस मिनट देर से पहुंचने पर शिक्षिका ने छात्रा को भगाया, घर पहुंचकर काट ली हाथ की नस

लातेहार : मंगलवार को आठवीं की बोर्ड परीक्षा में दस मिनट देरी से पहुंचने के बाद शिक्षिका के प्रवेश नहीं देने पर एक छात्रा तनाव में आ गई और उसने हाथ की नस काट ली। मामला शहर के धरमपुर स्थित सरस्वती विद्या मंदिर में बने केंद्र की है।

जानकारी के मुताबिक आठवीं बोर्ड की परीक्षा 9:45 बजे शुरू होनी थी। लेकिन सुबह 9:55 बजे जब छात्रा स्कूल पहुंची तो यहां मौजूद शिक्षिका ने उसे परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं करने दिया। छात्रा रोती हुई घर आई और तनाव में आ कर ब्लेड से अपना हाथ का नस काट लिया।

इसे भी पढ़ें :- लोहरदगा : थ्रेसर मशीन में फंस कर महिला की दर्दनाक मौत

छात्रा की मां ने बताया कि बेटी को उदास देखा। पूछने पर बताया कि परीक्षा केंद्र पर देर से पहुंचने पर उसे भगा दिया गया।

वहीं, छात्रा के परिजनों का कहना है कि स्कूल शिक्षकों द्वारा परीक्षा केंद्र से भगा देना गलत है। उन्होंने स्कूल में लगे सीसीटीवी कैमरे की जांच कर दोषी शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

JAC 8 board latehar