Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं पर रोक लगाने को लेकर प्रशासन ने प्रबुद्ध नागरिकों के साथ की बैठक

Latehar : Mob Lynching

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : जिले के उपायुक्त और पुलिस कप्तान के संयुक्त निर्देश पर रविवार को बरवाडीह थाना परिसर में मॉब लिंचिंग ऐसे अपराधों के प्रति जनप्रतिनिधियों प्रबुद्ध नागरिकों और समाजसेवियों को जागरूक करने के साथ-साथ जन-जन तक जागरूकता अभियान चलाने को लेकर बैठक का आयोजन किया गया।

बैठक की अध्यक्षता प्रखंड विकास पदाधिकारी राकेश सहाय ने की। बैठक में प्रखंड विकास पदाधिकारी के साथ अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी दिलु लोहरा, सर्किल इंस्पेक्टर चंद्रशेखर चौधरी, थाना प्रभारी श्रीनिवास सिंह, छिपादोहर थाना प्रभारी विश्वजीत तिवारी मुख्य रूप से शामिल हुए।

बैठक को संबोधित करते हुए प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा कि मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर रोक लगाने और इस को जागरूक करने को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरीके से सख्त है। जिसे देखते हुए पंचायत प्रतिनिधियों को यह सख्त हिदायत दी जा रही है कि वह अपने क्षेत्र में किसी भी मामले की सुनवाई करने के दौरान किसी को दंडित करने का अधिकार नहीं है।

क्योंकि दंडित किए जाने के दौरान कई बार ऐसे मामले आए हैं जहां मॉब लिंचिंग जैसी घटनाएं घटित हुई हैं और ऐसी स्थिति में पंचायत स्तर पर सुनवाई करके ऐसे फैसला सुनाने वाले सभी पंचायत प्रतिनिधियों के खिलाफ कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इसलिए इस तरह का फैसला ना ले और ना ही कहीं भी भीड़ को किसी भी व्यक्ति के साथ मारपीट करने अनुमति दें। साथ ही इसको लेकर लोगों में जागरूकता अभियान भी चलाएं।

अनुमंडल पुलिस अधिकारी ने कहा कि कहीं भी ग्राम स्तर पर किसी भी मामले की सुनवाई सामाजिक स्तर पर करते हुए समाज को बेहतर बनाने का प्रयास करें ना कि सुनवाई के दौरान किसी को दंडित करके एक बड़े अपराध को पैदा करने का काम करें। अगर ऐसा होता है तो अपराध करने और करवाने वाले लोगों के खिलाफ कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। किसी भी मामले में कानून को हाथ में लेने से बेहतर कि मामले की तत्काल सूचना प्रखंड प्रशासन को दें ताकि प्रशासन उसे अपने अस्तर से सुलझा सके।

बैठक के दौरान मुख्य रूप से प्रखंड बीस सूत्री अध्यक्ष नसीम अंसारी, सांसद प्रतिनिधि कन्हाई प्रसाद, सामाजिक कार्यकर्ता कन्हाई सिंह, मुखिया सुनीता टोप्पो, मुंद्रिका सिंह, देवनाथ सिंह, पंचायत समिति सदस्य सुनीता पाल, सुभाष राम, मनसूर आलम, पूर्व मुखिया हुलास सिंह, जयप्रकाश रजक, राजद अध्यक्ष अली हसन अंसारी, विवेक कुमार सिंह समेत काफी संख्या में स्थानीय लोग और पंचायत प्रतिनिधि मौजूद थे।

सड़क दुर्घटनाओं पर रोक लगाने को लेकर बैरियर लगाने पर बनी सहमति

सड़क दुर्घटना रोकने को लेकर लगे कई जगह बैरियर प्रशासन के द्वारा पंचायत प्रतिनिधियों प्रबुद्ध नागरिकों के साथ की गई बैठक के दौरान थाना प्रभारी श्रीनिवास सिंह के द्वारा थाना क्षेत्र में लगातार हो रही सड़क दुर्घटना के साथ-साथ बीते दिनों हुई दुर्घटना में दो युवकों की मौत पर दुख व्यक्त करते हुए सड़क दुर्घटनाओं पर रोकने को लेकर थाना क्षेत्र के चिन्हित स्थानों पर ड्राम के माध्यम से बैरियर लगाया जाएगा ताकि वाहनों की रफ्तार पर कमी हो औऱ दुर्घटना को रोका जा सके। वही थाना प्रभारी के पहल का मोजुद लोगो के द्वारा ताली बजा कर स्वागत किया गया।

Latehar : Mob Lynching

https://thenewssense.in/category/latehar

https://www.facebook.com/newssenselatehar


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *