Breaking :
||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री||JPSC पीटी के मॉडल आंसर को चुनौती देने वाली याचिका हाईकोर्ट में खारिज, परीक्षा का रास्ता साफ||लातेहार: सेरेगड़ा पंचायत सेवक अर्जुन राम रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||झारखंड में चार DSP की ट्रांसफर-पोस्टिंग, समीर कुमार सवैया बने किस्को के DSP||झारखंड कैबिनेट का फैसला, सरकार करायेगी जातिगत गणना, विधायकों का वेतन भत्ता बढ़ा, रिटायर्ड कर्मचारियों को भी मिलेगी प्रमोशन||झारखंड को नशामुक्त राज्य बनाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध, हर किसी की सहभागिता जरूरी : मुख्यमंत्री||वन भूमि से कब्जा हटाने गयी टीम पर ग्रामीणों का हमला, पत्थरबाजी में वन क्षेत्र पदाधिकारी समेत एक दर्जन घायल||झारखंड में इस तारीख को मानसून की एंट्री, बारिश और वज्रपात का अलर्ट||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस
Thursday, June 20, 2024
बालूमाथलातेहार

पंचायत चुनाव के प्रचार में डीजे का प्रयोग करने वालों पर होगी कार्रवाई

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तहत लातेहार जिले के बालूमाथ प्रखंड क्षेत्र में 24 मई को मतदान होना है। जिसे लेकर बालूमाथ प्रखंड क्षेत्र के जिला परिषद, पंचायत समिति, मुखिया पद के प्रत्याशी अपने अपने क्षेत्रों में मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए प्रचार प्रसार जोर शोर से कर रहे हैं।

प्रत्याशियों द्वारा प्रचार में डीजे का भी प्रयोग की जा रहा है। इसे देखते हुए बालूमाथ अंचलाधिकारी आफताब आलम ने पंचायत चुनाव के प्रचार प्रसार के दौरान डीजे का प्रयोग करने वालों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई करने की बात कही है।

उन्होंने कहा कि जो भी डीजे का प्रयोग कर रहे हैं तत्काल डीजे का प्रयोग चुनाव प्रचार प्रसार के दौरान नहीं करें। अन्यथा पकड़े जाने पर संबंधित वाहन एवं डीजे प्रशासन द्वारा जब्त किया जाएगा। साथ ही पंचायत चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी एवं अभिकर्ता के विरूद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

इस संबंध में उन्होंने आवश्यक कार्य हेतु बालूमाथ थाना प्रभारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी तथा लातेहार अनुमंडल अधिकारी को सदर सूचित किया है। साथ ही उन्होंने कहा है कि चुनाव का जो समय सीमा निर्धारित है उसके तहत ही संबंधित प्रत्याशी चुनाव प्रचार करें अन्यथा आचार संहिता का उल्लंघन करने के आरोप में संबंधित प्रत्याशियों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।