Breaking :
||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत||बालूमाथ: शार्ट सर्किट से हाइवा वाहन में लगी आग, जलकर राख||बालूमाथ: महिला का अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ठगे सात लाख रुपये, गिरफ्तार||बालूमाथ: सरस्वती पूजा को लेकर निकाली गयी शोभायात्रा पर मधुमक्खियों का हमला, मची अफरा-तफरी||लातेहार: बालूमाथ में अवैध कोयला लदा पांच हाइवा जब्त, तीन गिरफ्तार||लातेहार: अब मनिका के डुमरी में दिखा आदमखोर तेंदुआ, गांव में मचा कोहराम, घर में दुबके लोग||लातेहार: किडजी प्री स्कूल में “विद्यारंभ संस्कार” का आयोजन, अभिभावक आमंत्रित||रांची: 10 लाख का इनामी PLFI सब जोनल कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरफ्तार||राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 22 अधिकारियों और कर्मचारियों को करेंगे सम्मानित||आईईडी ब्लास्ट में फिर एक जवान घायल, लाया गया रांची

रांची में टीपीसी उग्रवादी भीखन गंझू समेत दो गिरफ्तार, 10 लाख का था इनामी, NIA को थी तलाश

रांची : एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा को मिली गुप्त सूचना के आधार पर रांची पुलिस की टीम ने 17 मार्च को सदर थाना क्षेत्र के ढेलटोली में छापेमारी की। छापेमारी में 10 लाख के इनामी टीपीसी उग्रवादी भीखन गंझू और राहुल मुंडा को लेवी की राशि के साथ गिरफ्तार किया गया है।

गिरफ्तार उग्रवादी पर चतरा जिले के पिपरवार, टंडवा, लवलोंग और पत्थलगड़ा, जबकि रांची जिले के खलारी, बुढ़मू, मैक्लुस्कीगंज और कांके पुलिस थानों में कुल 26 मामले दर्ज हैं। भीखन गंझू झारखंड पुलिस के साथ-साथ एनआईए के राडार पर आतंकी फंडिंग और विदेशी हथियारों की तस्करी में था। एनआईए ने भीखन को मोस्ट वांटेड घोषित किया था।

पुलिस ने उसके पास से 12.32 लाख रुपये लेवी, सात मोबाइल, दो राउटर, टीपीसी का लेटर पैड, एक लैपटॉप और कई अन्य सामान बरामद किया है। एनआईए भीखन को भी रिमांड पर लेगी और 13 फंडिंग हथियारों की तस्करी और कई अन्य मामलों से पूछताछ करेगी। ऐसे में कई बड़े नाम सामने आने की संभावना है।

चतरा जिले के पिपरवार थाना क्षेत्र में रहने वाला टीपीसी का आतंकी भीखन गंझू एनआईए की रडार पर था। एनआईए ने भीखन गंझू पर आतंकी फंडिंग के मामले में केस दर्ज किया है। एनआईए को मगध आमपराली कोयला परियोजना में आतंकी फंडिंग, उग्रवादी परमेश्वर गंझू से लेवी राशि की बरामदगी और पूर्णिया हथियार रैकेट मामले में भीखनकी तलाश थी।

भीखन गंझू सीसीएल कर्मचारी है। जबकि उग्रवादी संगठन में कमांडर है। पिपरवार के अशोका, टंडवा के मगध-आम्रपाली प्रोजेक्ट में टेरर फंडिंग के मामले में एनआईए ने चार्जशीट दाखिल की है। जबकि एनआईए ने नागालैंड से हथियारों की तस्करी में भीखन पर चार्जशीट भी दाखिल की है। इन मामलों में वह फरार था। मोस्ट वांटेड होने के बावजूद वह इन दिनों कोयले के कारोबार में सक्रिय था। हाल ही में टंडवा में आगजनी की घटना में भीखन का नाम भी सामने आया था।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *