Breaking :
||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स

बजट सत्र के समापन पर मुख्यमंत्री ने सदन में कहा नेतरहाट की तर्ज पर खोले जा रहे हैं तीन और स्कूल, पुलिस कर्मियों को मिलेगा क्षतिपूर्ति अवकाश

रांची : झारखंड विधानसभा का बजट सत्र शुक्रवार को संपन्न हो गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि सरकार स्कॉलरशिप को फिर से 3 गुना बढ़ाने जा रही है। शायद इसे और भी बढ़ा दें। हेमंत ने कहा कि उनकी सरकार ने ऐतिहासिक फैसला लेकर पारा शिक्षकों की समस्या का समाधान किया है। 65 हजार पारा शिक्षकों को अब सहायक अध्यापक के रूप में जाना जाएगा। शिक्षा के क्षेत्र में व्यापक सुधार किए गए हैं। 250 करोड़ की लागत से आधुनिक स्कूल खोले जा रहे हैं। नेतरहाट की तर्ज पर 3 स्कूल खोले जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि सरकार कल्याण विभाग के छात्रावास में छात्रों के लिए भोजन उपलब्ध कराएगी। रसोइयों को भी रखा जाएगा और गार्ड भी तैनात किए जाएंगे। वहीं, पुलिस कर्मियों को क्षतिपूर्ति अवकाश भी मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें यहीं मरना है और जीना है। सरकार रहे न रहे, हमें यहीं रहना है। झारखंड की भावना के अनुरूप काम करेंगे। मौत के बाद विपक्ष को यूपी, बिहार, छत्तीसगढ़ जाना है। मंहगाई के चलते सभी क्षेत्रों में अराजकता बढ़ेगी।

पिछली सरकार राज्य के लिए नहीं बल्कि व्यक्ति के लिए काम कर रही थी। 41 विधायकों के लिए काम किया। एक कहावत है कि भूत से बचने के लिए सरसों का इस्तेमाल किया जाता है, जब सरसों में ही भूत घुस जाए तो वह कैसे भागेगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *