Breaking :
||झारखंड में पांचवें चरण का चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न, आचार संहिता उल्लंघन के सात मामले दर्ज||लातेहार में शांतिपूर्ण माहौल में मतदान संपन्न, 65.24 फीसदी वोटिंग||झारखंड में गर्मी से मिलेगी राहत, गरज के साथ बारिश के आसार, येलो अलर्ट जारी||चतरा, हजारीबाग और कोडरमा संसदीय क्षेत्र में मतदान कल, 58,34,618 मतदाता करेंगे 54 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला||चतरा लोकसभा: भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधी टक्कर, फैसला जनता के हाथ||भाजपा की मोटरसाइकिल रैली पर पथराव, कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट, कई घायल||झारखंड की तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार थमा, 20 मई को वोटिंग||पिता के हत्यारे बेटे की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त बंदूक बरामद समेत पलामू की तीन ख़बरें||चतरा लोकसभा क्षेत्र के नक्सल प्रभावित इलाके में नौ बूथों का स्थान बदला, जानिये||झारखंड हाई कोर्ट में 20 मई से ग्रीष्मकालीन अवकाश
Tuesday, May 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंड

पंचायत चुनाव का रास्ता साफ़, ओबीसी आरक्षण को लेकर दायर की गई याचिका सुप्रीम कोर्ट में ख़ारिज

झारखंड में होने वाले पंचायत चुनाव में ओबीसी आरक्षण को लेकर दायर याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है। यह याचिका गिरिडीह के आजसू सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी ने दायर की थी। इस फैसले से राज्य में 60 हजार से अधिक पंचायत प्रतिनिधियों के चुनाव का रास्ता खुल गया है।

सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार को अगले पंचायत चुनाव से पहले ट्रिपल टेस्ट के जरिए ओबीसी आरक्षण की व्यवस्था करने का निर्देश दिया है।सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी की याचिका पर सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि अगले चुनाव से पहले ट्रिपल टेस्ट की प्रक्रिया शुरू हो जानी चाहिए । इस मामले पर झारखंड सरकार ने भी अपना पक्ष सुप्रीम कोर्ट के समक्ष रखा था।

इसे भी पढ़ें :- सिन्दूर देने से पहले दुल्हन का वीडियो हुआ वायरल, दूल्हे ने शादी से किया इंकार

राज्य में फिलहाल चुनाव की तारीख की घोषणा कर दी गई है तथा चुनाव प्रक्रिया जारी है। राज्य में 14 मई से चार चरणों में चुनाव होने हैं। ऐसे में याचिका का अब कोई महत्व नहीं रहा । इसे खारिज कर दिया गया है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें