Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
झारखंडलोहरदगा

लोहरदगा में फिर तनाव, मंदिर में बज रहे लाउडस्पीकर को जबरन कराया बंद, भारी संख्या में पुलिस बल तैनात

लोहरदगा जिले में फिर हुआ तनाव । रामनवमी शोभा यात्रा पर हुए पथराव और आगजनी की घटना के बाद से इस तरह की घटनाएं थमने का नाम ही नहीं ले रही है। पुलिस प्रशासन द्वारा ऐसी घटनाएं रोकने की कोशिशों के बावजूद हो रही है, जिससे कि पुलिस प्रशासन परेशान है।

जानकारी के अनुसार बुधवार रात सेन्हा थाना क्षेत्र के अरु गांव के बस्ती के शिव मंदिर में बज रहे लाउडस्पीकर को एक समुदाय विशेष के कुछ लोगों ने लाउडस्पीकर को बंद करा दिया। उन्होंने कहा कि अगर लाउडस्पीकर बंद नहीं करता है तो युवकों को मंदिर से बाहर लाया जाए। जब यह बात फैली तो माहौल खराब होने लगा। इसकी सूचना ग्रामीणों ने तुरंत पुलिस को दे दी।

इसे भी पढ़ें :- हेमंत सरकार ने राज्य कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के महंगाई भत्ते में की 3 फीसदी की बढ़ोतरी, जल्द होगी घोषणा

सूचना मिलने ही डीएसपी परमेश्वर प्रसाद मौके पर पहुंचे और माहौल को शांत कराया। इसी बीच कुछ ग्रामीण भी पहुंचे और इस तरह की गलती पर नाराजगी जताई। बावजूद इस घटना के बाद जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन अलर्ट पर है। लोहरदगा एसपी आर रामकुमार ने घटना की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि इस घटना के बाद उस क्षेत्र में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है। उन्होंने कहा कि अभी माहौल पूरी तरह से शांत है। इस घटना के बाद पुलिस प्रशासन अलर्ट पर है।

इस घटना से जिलेवासियों में भय का माहौल है। इधर इस तरह की घटना के बाद खराब माहौल को शांत करने के लिए गुरुवार को अरु गांव में शांति समिति की बैठक बुलाई गई है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

लोहरदगा में फिर तनाव