Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में सड़क हादसे में एक बाइक सवार की मौत, दो अन्य घायल||अपहृत डॉक्टर सकुशल बरामद, डालटनगंज में किराये का मकान लेकर छिपा रखे थे अपहरणकर्ता, तीन गिरफ्तार||रांची में पचास हजार का इनामी माओवादी हथियार के साथ गिरफ्तार||गुमला में तेज रफ़्तार का कहर, सड़क हादसे में दो छात्रों की दर्दनाक मौत||रांची: TSPC के इनामी उग्रवादी ने पुलिस के सामने किया सरेंडर||विजय संकल्प महारैली में बोले पीएम मोदी, मोदी की गारंटी पर देश कर रहा भरोसा, अबकी बार 400 पार||पलामू: बेटी की शादी के लिए बैंक से निकाले पैसे, रुपयों से भरा बैग छीनकर लुटेरे हुए फरार||सिंदरी खाद कारखाना चालू कराने का लिया था संकल्प, मोदी की गारंटी हुई पूरी : नरेन्द्र मोदी||कैबिनेट की बैठक में 40 प्रस्तावों को मिली मंजूरी, राज्य कर्मियों की पेंशन योजना में संशोधन, अब पांच हजार रुपये मिलेगा पोशाक भत्ता||पलामू: नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को 20 साल सश्रम कारावास की सजा
Saturday, March 2, 2024
झारखंडरांची

रांची: स्प्रिट और लाइटर से खड़ी बसों में लगायी आग, पुलिस ने आरोपी को पकड़ा, जानें वजह

रांची : कांटा टोली स्थित खादगढ़ा बस स्टैंड में खड़ी नौ बसों में आग लगाने के मामले में पुलिस ने एक नाबालिग को पकड़ा है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने नाबालिग को पकड़ा है। नाबालिग ने स्प्रिट के स्प्रे और लाइटर की मदद से खड़ी बसों में आग लगायी थी।

ओपी प्रभारी आकाश भारद्वाज ने शुक्रवार को बताया कि नाबालिग लड़के को मामले में सीसीटीवी फुटेज के आधार पर निरुद्ध किया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है। आग लगाने की इस घटना में कई लोगों के शामिल होने की बात सामने आ रही है। नाबालिग के पास से पुलिस ने एक स्प्रे और लाइटर भी बरामद हुआ है।

पुलिस की पूछताछ में नाबालिग ने बताया है कि उसने बस की टंकी के पास पहले स्प्रे मारा और फिर लाइटर से उसमें आग लगा दी। इस वजह से आग तेजी से फैलती चली गयी। नाबालिग रांची के नामकुम इलाके के भुइयां टोली का रहने वाला है। वह पिछले कुछ दिनों से खादगढ़ा बस स्टैंड में ही खलासी के रूप में काम कर रहा था। इसी दौरान उसे नौकरी से निकाल दिया गया था। इसी से नाराज होकर उसने बसों में आग लगा दी।

इधर, मामले की जांच के लिए शुक्रवार को सिटी डीएसपी दीपक कुमार, लोअर बाजार थाना प्रभारी दयानंद कुमार और टीओपी प्रभारी घटनास्थल पर पहुंचे। साथ में एफएसएल (फॉरेंसिक साइंस लैबोरेट्री) टीम भी पहुंची थी।

गौरतलब है कि गुरुवार को तीन अलग-अलग जगहों और अलग अलग समय पर नौ बसों में आग लग गयी थी। इसमें आठ बसें पूरी तरह से जल गयीं थीं।