Breaking :
||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस
Saturday, June 15, 2024
झारखंडरांची

फेमिना मिस इंडिया में पहुंचने वाली झारखंड की पहली आदिवासी महिला बनीं रिया तिर्की

सीएम हेमंत सोरेन ने दी बधाई

झारखंड की राजधानी रांची की रहने वाली रिया तिर्की रविवार 3 जुलाई को फेमिना मिस इंडिया के ग्रैंड फिनाले में झारखंड का प्रतिनिधित्व कर रही हैं। आदिवासी समुदाय की रिया तिर्की ने अपनी योग्यता से झारखंड का मान बढ़ाया है। हर कोई आज उन्हें शुभकामनाएं और प्यार भेज रहा है। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने खुद ट्वीट कर उन्हें बधाई दी है। हेमंत सोरेन ने लिखा है कि यह गर्व का क्षण है। झारखंड की रिया तिर्की को बहुत-बहुत बधाई।

मालूम हो कि आदिवासी समुदाय से आने वाली रिया तिर्की रांची के विवेकानंद विद्या मंदिर की छात्रा रह चुकी हैं। उन्होंने अपनी उच्च शिक्षा आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में स्थित पीबी सिद्धार्थ कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस से की। वह एक बेहतरीन मॉडल और अभिनेत्री हैं। वह बैडमिंटन, बैंकिंग और एथोलॉजी में बहुत रुचि रखती हैं। आदिवासी समुदाय से ताल्लुक रखने वाली रिया फेमिना मिस इंडिया के ग्रैंड फिनाले में यह मुकाम हासिल करने वाली पहली महिला हैं।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

24 साल की रिया तिर्की ने साल 2015 में इस प्रतियोगिता की तैयारी शुरू कर दी थी। करीब 8 साल की मेहनत के बाद वह इस मुकाम पर पहुंची हैं। उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत से साबित कर दिया है कि संघर्ष के बल पर हर कोई अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है। आपको बस धैर्य और समर्पण के साथ कड़ी मेहनत करने की जरूरत है।