Breaking :
||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स

Ranchi : CBI ने RITES के GM, DGM सहित तीन को किया गिरफ्तार

RITES / Ranchi : सीबीआई ने झारखंड समेत देश के कई राज्यों में बड़ी कार्रवाई की है, घूसखोरी के मामले रेल इंडिया टेक्निकल एंड इकोनॉमिक सर्विसेज (राइटस) के जीएम अभय कुमार सहित तीन को गिरफ्तार कर लिया गया है. इसमें डीजीएम राजीव रंजन और हरदेव कंस्ट्रक्शन (देवघर) के अवतार सिंह भी शामिल हैं. इस दौरान 70 लाख रुपये जब्त किये गये. सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश ने तीनों को तीन दिन की पुलिस रिमांड पर देने का आदेश दिया.

टेंडर में गलत तरीके से करते थे मदद :

सीबीआइ को सूचना मिली थी कि राइट्स के जीएम टेंडर में गलत तरीके से ठेकेदार को मदद करने और समय पर भुगतान करने के नाम पर सुनियोजित तरीके से नाजायज वसूली करते हैं. इस पर सीबीआइ ने डीएसपी आरएस सोलंकी के नेतृत्व में पूरे मामले पर नजर रखनी शुरू की. इस दौरान जानकारी मिली कि राइट्स ने हरदेव कंस्ट्रक्शन और मेहरोत्रा बिल्डकॉन के ज्वाइंट वेंचर को उरीमारी में काम आवंटित किया था.

रांची की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मेजरमेंट बुक में हेराफेरी कर मदद पहुंचाने और समय पर भुगतान करने के लिए अभय कुमार ने पांच लाख रुपये रिश्वत मांगी. जीएम के निर्देश पर डीजीएम राजीव रंजन ने अवतार सिंह के कर्मचारी शाही को फोन कर पांच लाख रुपये की मांग की. इस मामले में सहमति बनने पर हरदेव ने बिल पास होते ही मांग के एक हिस्से के भुगतान पर सहमति दी. इसी के अनुरूप गुरुवार की शाम राइट्स के जीएम अभय कुमार को अशोक नगर स्थित कार्यालय के पास 2.72 लाख रुपये का भुगतान किया गया. भुगतान होते ही डीएसपी आरएस सोलंकी के नेतृत्व में जाल बिछा कर बैठे सीबीआइ के अधिकारियों ने अभय कुमार को गिरफ्तार कर लिया.

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

गिरफ्तारी के बाद तीन राज्यों में मारा छापा :

गिरफ्तारी के बाद सीबीआइ ने पटना में आर्य समाज मंदिर रोड में जीवन श्री अपार्टमेंट के पास, पश्चिम चंपारण के बेतिया और रांची के अशोक नगर स्थित आवास पर छापा मारा. राजीव रंजन के मोरहाबादी (तेतर टोली), पटना के हनुमान नगर,न्यू पुनाइचक और रांची अशोक नगर के मंदिर मार्ग स्थित ठिकानों पर छापा मारा.

इसके अलावा अवतार सिंह के देवघर (स्टेशन रोड) स्थित आवास और हरदेव कंस्ट्रक्शन के दफ्तर व गुड़गांव स्थित ठिकानों पर छापा मारा. इस दौरान विभिन्न ठिकानों से कुल 70 लाख रुपये और राइट्स द्वारा दिये गये काम में गड़बड़ी से संबंधित दस्तावेज जब्त किये गये. छापेमारी के समय अवतार का कर्मचारी घर पर मौजूद नहीं था, इसलिए वह पकड़ा नहीं जा सका.

पलामू प्रमंडल की ताज़ा ख़बरें यहाँ पढ़ें

नामजद अभियुक्तों का ब्योरा

अभय कुमार, जीएम (राइट्स),रांची

राजीव रंजन,डीजीएम (राइट्स)

अवतार सिंह, हरदेव कंस्ट्रक्शन का मालिक

शाही, अवतार सिंह का कर्मचारी

ADVT

rites ranchi