Breaking :
||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स

रांची : डीएवी कपिलदेव के प्रिंसिपल पर दुष्कर्म का आरोप, भेजते थे गन्दी वीडियो !

डीएवी कपिलदेव/रांची/प्रिंसिपल : अरगोड़ा थाना क्षेत्र स्थित डीएवी कपिलदेव स्कूल के प्रिंसिपल मनोज कुमार सिन्हा के विरुद्ध कार्यस्थल पर यौन शोषण करने का प्रयास करने को लेकर प्राथमिकी दर्ज की गयी है. अरगोड़ा थाना में डीएवी कपिलदेव स्कूल की एक महिला कर्मी द्वारा यह प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. दर्ज प्राथमिकी के अनुसार पीड़ित महिला कर्मी 22 जुलाई 2019 से कॉन्ट्रैक्ट पर स्कूल में काम करती है. पीड़िता के अनुसार शुरू से प्रिंसिपल का व्यवहार सही नहीं था. वह ब्लड प्रेशर चेक करने के बहाने अपने चेंबर में बुलाते थे और उनके साथ अश्लील हरकत करते थे.

पीड़िता ने प्रिंसिपल की गलत मंशा को भांप लिया और अपने मोबाइल से कपड़े के अंदर छुपा कर वीडियो बनाने लगी. आरोपी प्रिंसिपल मनोज कुमार सिन्हा लगातार अपने साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए हर तरीके से दबाब देते थे. अपने मोबाइल से प्रिंसिपल पीड़ित को अश्लील वीडियो भेजते थे. वीडियो चैट करके परेशान करते थे. कई बार जबरदस्ती गलत काम करने का भी प्रयास किया. पीड़िता ने इसका वीडियो भी बनाया. पीड़िता जब आरोपी प्रिंसिपल की गलत बातों को नहीं मानी तो प्रिंसिपल ने जहां-तहां ड्यूटी लगा कर परेशान किया. पीड़िता को बार-बार धमकी देते थे कि मेरी बात मान लो तो तुमको ऊंचाई तक पहुंचा देंगे, यदि तुम नहीं मानी तो तुम बहुत परेशान हो जाओगी.

प्राथमिकी में यह भी बताया कि प्रिंसिपल मनोज कुमार सिन्हा स्कूल में काम करने वाली अन्य महिलाओं, टीचिंग स्टाफ के साथ भी यौन शोषण करने का प्रयास करते थे. उसके लिए वह काफी परेशान करते थे. जिसके कारण कुछ महिला कर्मियों ने स्कूल भी छोड़ दिया. पीड़िता के द्वारा आरोपी प्रिंसिपल मनोज कुमार सिन्हा का वीडियो रिकॉर्ड किया गया है. आरोपी के द्वारा लगातार यौन उत्पीड़न से तंग आकर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी. आरोपी पीड़िता को अपने प्रभावशाली संपर्क की धौंस देकर धमकाया करता था. पुलिस मामले को लेकर प्राथमिकी दर्ज कर छानबीन में जुट गयी है.

डीएवी कपिलदेव रांची प्रिंसिपल