Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज
Sunday, June 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंड

झारखंड में स्कूलों के समय में बदलाव की तैयारी, अब 10:30 बजे छुट्टी का प्रस्ताव

रांची : झारखंड में भीषण गर्मी पड़ रही है। गर्मी और लू से आम जनजीवन परेशान है। इसमें सबसे ज्यादा परेशानी स्कूली बच्चों को हो रही है। इसे देखते हुए एक बार फिर स्कूलों के टाइम टेबल में बदलाव किया जा सकता है।

स्कूलों के समय को लेकर विभाग ने शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को प्रस्ताव भेजा है। प्रस्ताव पर शिक्षा मंत्री की अनुमति मिलते ही एक बार फिर स्कूलों के समय में बदलाव किया जाएगा।

शिक्षा विभाग के प्रस्ताव के मुताबिक स्कूलों में 12:00 की जगह 10:30 बजे छुट्टी हो तो बेहतर होगा. प्रस्ताव में कहा गया है कि यदि स्कूलों का संचालन सुबह 6:00 बजे से 10:30 बजे तक किया जाता है, तो छात्र समय पर घर पहुंच सकेंगे। वे भी भीषण गर्मी और गर्मी की चपेट में नहीं आएंगे।

इसे भी पढ़ें :- कोरोना की चौथी लहर : स्‍कूलों में प्रार्थना पर रोक, सरकार ले सकती है बड़ा फैसला

शिक्षा मंत्री द्वारा इस प्रस्ताव को मंजूरी मिलते ही अधिसूचना जारी कर दी जाएगी। शिक्षा विभाग द्वारा स्कूलों के टाइम टेबल में बदलाव को लेकर भी तैयारी की जा रही है।

बता दें कि गर्मी के चलते झारखंड में तीसरी बार स्कूलों के टाइम टेबल में बदलाव हो सकता है। भीषण गर्मी और गर्मी को देखते हुए शिक्षा विभाग इस मामले को लेकर फैसला ले रहा है।

हालांकि, प्रस्ताव के मुताबिक स्कूलों के टाइम टेबल को लेकर सरकारी स्कूलों में मिड-डे मील को लेकर कुछ असमंजस की स्थिति बनी हुई है। बताया जा रहा है कि सरकारी स्कूलों में बच्चों को छुट्टी के तुरंत बाद सुबह साढ़े दस बजे मध्याह्न भोजन उपलब्ध कराने की व्यवस्था करने की भी योजना तैयार की जा रही है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें