Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Wednesday, May 29, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडलातेहार

पारा शिक्षकों के लिए मूल्यांकन परीक्षा लेने की तैयारी शुरू, जानिये किस स्तर के पूछे जायेंगे प्रश्न

रांची : झारखंड एकेडमिक काउंसिल ने पारा शिक्षक (सहायक अध्यापक) की मूल्यांकन परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी है। इस संबंध में जैक ने झारखंड शिक्षा परियोजना से पारा शिक्षकों के प्रमाणपत्रों के सत्यापन की जानकारी मांगी है। केवल वे पारा शिक्षक जिनके प्रमाणपत्र सत्यापन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है, मूल्यांकन परीक्षा में उपस्थित हो सकते हैं। प्रदेश में कुल 61148 पारा शिक्षक कार्यरत हैं। इनमें से 14042 पारा शिक्षक टेट सफल है।

टेट सफल शिक्षक मूल्यांकन परीक्षा में शामिल नहीं होंगे। 47016 शिक्षकों को मूल्यांकन परीक्षा में शामिल होना होगा। इनमें से करीब 25 हजार शिक्षकों के प्रमाणपत्र सत्यापन की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। झारखंड शिक्षा परियोजना ने जिलों को प्रमाणपत्र सत्यापन की प्रक्रिया जल्द पूरी करने को कहा है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

जैक परीक्षा के संबंध में मॉडल प्रश्न पत्र जारी करेगा। परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए अंक भी निर्धारित किए गए हैं। सामान्य श्रेणी के शिक्षकों के लिए 40 प्रतिशत अंक और आरक्षित वर्ग के शिक्षकों के लिए 35 प्रतिशत अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा। कक्षा एक से पांच तक के शिक्षकों के लिए प्रश्नों का स्तर मैट्रिक और कक्षा छह से आठ के लिए स्नातक स्तर का होगा।