Breaking :
||लातेहार: अब मनिका के डुमरी में दिखा आदमखोर तेंदुआ, गांव में मचा कोहराम, घर में दुबके लोग||लातेहार: किडजी प्री स्कूल में “विद्यारंभ संस्कार” का आयोजन, अभिभावक आमंत्रित||रांची: 10 लाख का इनामी PLFI सब जोनल कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरफ्तार||राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 22 अधिकारियों और कर्मचारियों को करेंगे सम्मानित||आईईडी ब्लास्ट में फिर एक जवान घायल, लाया गया रांची||लातेहार जिले के लिए गौरव भरा पल…राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर राज्यपाल ने डीसी को किया सम्मानित||पलामू में अंतरराज्यीय गिरोह के नौ अपराधी गिरफ्तार, दो करोड़ की रंगदारी मांगने सहित आधा दर्जन मामलों का खुलासा||25 लाख के इनामी माओवादी नवीन यादव ने किया आत्मसमर्पण, 100 से अधिक बड़े नक्सली हमलों में रहा है शामिल||मतदाता सूची सुधार एवं आधार प्रमाणीकरण कार्य में लातेहार जिला झारखंड में अव्वल, डीसी होंगे सम्मानित||पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया PLFI का एरिया कमांडर, हथियार बरामद

रांची के मोराबादी मैदान में 28 दिसंबर से राष्ट्रीय खादी व सरस महोत्सव का आयोजन

देश भर के बुनकर, कारीगर और कलाकारों का लगेगा जमावड़ा

रांची : आज राज्य के बहुप्रतीक्षित राष्ट्रीय खादी एवं सरस महोत्सव 2022-23 का भूमि पूजन के साथ ही झारखंड राज्य खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के सीईओ राखल चंद्र बेसरा (झारखंड प्रशासनिक सेवा) ने शिलान्यास किया।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस मेले का आयोजन 28 दिसंबर 2022 से 8 जनवरी 2023 तक रांची के मोरहाबादी मैदान में किया जा रहा है।

श्री बेसरा ने कहा कि कोरोना काल के कारण मेले का आयोजन दो साल बाद हो रहा है, इसलिए लोग इस आयोजन का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं, उन्होंने कहा कि खादी और सरस से जुड़े देश भर के बुनकरों, कारीगरों, हस्तशिल्पियों और सरस से जुड़ी दीदियों को फिर से अर्थिक रूप से सबल बनाने में महोत्सव सहयोग करेगा।

श्री बेसरा ने कहा कि इस बार महोत्सव में बनने वाले हैंगरों का नाम झारखंड के महत्वपूर्ण त्योहारों और स्थानीय नृत्यों के नाम पर रखा जायेगा।

पर्यटन, कला संस्कृति, खेल एवं युवा मामले विभाग, झारखंड एवं झारखंड राज्य खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा प्रतिदिन सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये जायेंगे, जिसमें झारखंड के स्थानीय कलाकारों के साथ-साथ देश भर के कलाकार भाग लेंगे।

मेले में देश के विभिन्न राज्यों के खादी व सरस के विभिन्न उत्पादों व कलाकृतियों को देखने व खरीदने का अवसर मिलेगा, वहीं मेला परिसर में झूले व खान-पान के स्टॉल भी लगेंगे।

कार्यक्रम स्थल पर झारखंड सरकार के संयुक्त सचिव रॉबिन टोप्पो, जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक सीता राम पासवान, खादी बोर्ड के प्रबंधक सहित अन्य कर्मचारी मौजूद थे।