Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
झारखंडरांची

रांची के मोराबादी मैदान में 28 दिसंबर से राष्ट्रीय खादी व सरस महोत्सव का आयोजन

देश भर के बुनकर, कारीगर और कलाकारों का लगेगा जमावड़ा

रांची : आज राज्य के बहुप्रतीक्षित राष्ट्रीय खादी एवं सरस महोत्सव 2022-23 का भूमि पूजन के साथ ही झारखंड राज्य खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के सीईओ राखल चंद्र बेसरा (झारखंड प्रशासनिक सेवा) ने शिलान्यास किया।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस मेले का आयोजन 28 दिसंबर 2022 से 8 जनवरी 2023 तक रांची के मोरहाबादी मैदान में किया जा रहा है।

श्री बेसरा ने कहा कि कोरोना काल के कारण मेले का आयोजन दो साल बाद हो रहा है, इसलिए लोग इस आयोजन का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं, उन्होंने कहा कि खादी और सरस से जुड़े देश भर के बुनकरों, कारीगरों, हस्तशिल्पियों और सरस से जुड़ी दीदियों को फिर से अर्थिक रूप से सबल बनाने में महोत्सव सहयोग करेगा।

श्री बेसरा ने कहा कि इस बार महोत्सव में बनने वाले हैंगरों का नाम झारखंड के महत्वपूर्ण त्योहारों और स्थानीय नृत्यों के नाम पर रखा जायेगा।

पर्यटन, कला संस्कृति, खेल एवं युवा मामले विभाग, झारखंड एवं झारखंड राज्य खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा प्रतिदिन सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये जायेंगे, जिसमें झारखंड के स्थानीय कलाकारों के साथ-साथ देश भर के कलाकार भाग लेंगे।

मेले में देश के विभिन्न राज्यों के खादी व सरस के विभिन्न उत्पादों व कलाकृतियों को देखने व खरीदने का अवसर मिलेगा, वहीं मेला परिसर में झूले व खान-पान के स्टॉल भी लगेंगे।

कार्यक्रम स्थल पर झारखंड सरकार के संयुक्त सचिव रॉबिन टोप्पो, जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक सीता राम पासवान, खादी बोर्ड के प्रबंधक सहित अन्य कर्मचारी मौजूद थे।