Breaking :
||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर
Sunday, February 25, 2024
झारखंडरांची

झारखंड में मॉनसून के आगे बढ़ने का सिलसिला जारी, तीन दिन के लिए ऑरेंज अलर्ट

रांची : झारखंड में मानसून के आगमन के साथ ही झमाझम बारिश शुरू हो गयी है। संताल परगना के विभिन्न जिलों में बारिश से अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की गयी है। मौसम विभाग के अनुसार राज्य में दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगमन का सिलसिला जारी है। अगले दो से तीन दिनों में राज्य के अधिकांश हिस्सों में इसके स्थापित होने की संभावना है। इस प्रक्रिया में प्रदेश में 20 से 22 जून के दौरान मध्यम से तेज गर्जन व आंधी के साथ आकाशीय बिजली गिरने की प्रबल संभावना है।

तीन दिन के लिए ऑरेंज अलर्ट

मौसम विभाग की ओर से 20 से 22 जून के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। रांची स्थित भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मौसम विज्ञानी अभिषेक आनंद ने बताया कि गर्मी के बाद जब भी बारिश शुरू होती है, पहले कुछ दिनों में बादलों की गर्जना और बिजली गिरने की संभावना ज्यादा होती है। इस दौरान कई बार तेज आंधी का भी सामना करना पड़ता है। मौसम विभाग ने गर्जन और बिजली गिरने की तत्काल चेतावनी प्राप्त करने के लिए दामिनी और सचेत ऐप का उपयोग करने की सलाह दी है।

मसानजोर में सबसे ज्यादा 73 मिमी बारिश

पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कुछ स्थानों पर गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश हुई। जबकि एक-दो स्थानों पर तेज बारिश भी दर्ज की गयी। इस दौरान सबसे अधिक 73 मिमी बारिश दुमका के मसानजोर में हुई। जबकि डाल्टनगंज में सबसे ज्यादा तापमान 44.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

अब तक सामान्य से 85 फीसदी कम बारिश

इस साल, मानसून ने केरल तट पर देरी से शुरुआत की है। इस वजह से झारखंड में भी मानसून के आने में चार से पांच दिन की देरी हुई। इससे एक जून से 19 जून तक सामान्य से करीब 75 फीसदी कम बारिश हुई है। गढ़वा में अभी बारिश शुरू नहीं हुई है, जबकि गिरिडीह, हजारीबाग कोडरमा, बोकारो, चतरा और लातेहार में भी 0 से 5 मिमी तक बारिश हुई है।