Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Friday, April 19, 2024
झारखंडरांचीलातेहार

लोहरदगा: सालों से फरार भाकपा माओवादी का हार्डकोर नक्सली गिरफ्तार

लोहरदगा : जिले के पेशरार थाना पुलिस ने छह साल के लंबे अंतराल से फरार भाकपा-माओवादी संगठन के हार्डकोर नक्सली अशोक खेरवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पेशरार थाने में माओवादियों के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी में पुलिस काफी समय से उसकी तलाश कर रही थी।

इसी बीच स्थानीय पुलिस को पेशरार बाजार में माओवादियों के आने की गुप्त सूचना मिली। जिसके बाद पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर माओवादी को गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता हासिल की।

पेशरार थाना क्षेत्र के बुलबुल गांव निवासी हार्डकोर नक्सली अशोक खेरवार के खिलाफ पेशरार थाने में धारा 147, 148, 149, 307, 353, विस्फोटक पदार्थ अधिनियम की धारा 3/4, शस्त्र अधिनियम की धारा 25. बी) सीएलए अधिनियम की धारा ए, 26, 37, 35 और धारा 17 के तहत मामला संख्या 41/16 में प्राथमिकी दर्ज है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पुलिस को अशोक खेरवार की तलाश काफी समय से थी। उसकी गिरफ्तारी काे लेकर पुलिस ने उसके घर पर कई बार छापेमारी भी की थी, परंतु वह हर बार पुलिस के हाथों से बच निकलता था। नक्सली के विरुद्ध न्यायालय से गिरफ्तारी वारंट जारी थी। इसी बीच पुलिस ने फरार माओवादी को पेशरार बाजार से गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस अशोक खेरवार को काफी लंबे समय से तलाश कर रही थी। पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी के लिए कई बार उसके घर पर छापेमारी की थी, लेकिन हर बार वह पुलिस के हाथ से बच निकला। कोर्ट से नक्सलियों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। इस बीच पुलिस ने फरार माओवादी को पेशरार बाजार से गिरफ्तार कर लिया।