Breaking :
||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे
Sunday, March 3, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड: सरकारी स्कूल के शिक्षकों को टैब देगी सरकार, बच्चों को मिलेगी तकनीकी शिक्षा

रांची : सरकार ने सरकारी प्राथमिक विद्यालयों के 28945 शिक्षकों को टैब देने की घोषणा की है। यह टैब शिक्षक संसाधन पैकेज से दिया जाएगा। झारखंड स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने स्कूलों की पहचान कर ली है। टैब को खरीदने में करीब 28 करोड़ रुपये खर्च होंगे। जिसमें 40 प्रतिशत राशि का भुगतान राज्य सरकार करेगी। वहीं, 60 फीसदी खर्च केंद्र सरकार वहन करेगी।

गौरतलब है कि इससे पहले भी सरकारी स्कूल के शिक्षकों को टैब दिया जाता था। पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास के कार्यकाल में शिक्षकों को टैब दिया गया था। जिससे शिक्षक अपनी दैनिक उपस्थिति बनाकर संबंधित कार्य करते थे। इस टैब पर पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास का एक वीडियो आता था। शिक्षकों को वीडियो के माध्यम से संदेश दिया गया। वर्तमान सरकार द्वारा इस वीडियो को हटाने के कई प्रयास किए गए। लेकिन वीडियो डिलीट नहीं हो पा रहा है। हालांकि इसे हटाने में काफी खर्चा आ रहा है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बता दें कि कोरोना काल में निजी स्कूलों के छात्र पढ़ते रहे। लेकिन सरकारी स्कूली बच्चों की पढ़ाई बाधित रही। ऐसे में सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को सरकार द्वारा टैब दिए जाने से बच्चों की पढ़ाई में कोई बाधा नहीं आएगी. जिसके जरिए बच्चों को मल्टी मीडिया और टेक्नोलॉजी की जानकारी दी जाएगी। जिससे वे प्रौद्योगिकी से संबंधित विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग ले सकेंगे।