Breaking :
||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम||सतबरवा प्रखंड के रैयतों ने सांसद से की मुलाकात, उचित मुआवजा दिलाने की मांग||पलामू में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन की मौत, नेतरहाट घूमने जा रहा एक पर्यटक भी शामिल||केंद्रीय मंत्री शिवराज व असम के मुख्यमंत्री हिमंता झारखंड विधान सभा चुनाव में भाजपा का करेंगे बेड़ापार||झारखंड में पांच नक्सली ढेर, एक महिला नक्सली समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||अब स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग स्कूली बच्चों को नशीले पदार्थो के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में करेगा जागरूक||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर
Tuesday, June 18, 2024
झारखंड

नेतरहाट स्कूल में एडमिशन के लिए झारखण्ड का निवासी होना अनिवार्य

नेतरहाट स्कूल में एडमिशन

नेतरहाट आवासीय विद्यालय, लातेहार में वर्ष 2022 से नामांकन प्रक्रिया में परिवर्तन होगा। विद्यालय में नामांकन से पूर्व विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत आवासीय प्रमाण पत्र का सत्यापन किया जायेगा। इसके लिए नामांकन के लिए चयनित छात्रों का निवास प्रमाण पत्र अब स्कूल प्रबंधन द्वारा संबंधित जिले के उपायुक्त को भेजा जाएगा। छात्र द्वारा जमा प्रमाण पत्र के सत्यापन के बाद ही नामांकन लिया जाएगा।

इसे भी पढ़ें :- राज्य प्रशासनिक सेवा के 11 अधिकारियों का तबादला

विद्यालय में नामांकन के लिए छात्र का झारखंड राज्य का मूल/स्थानीय निवासी होना अनिवार्य है। निवास प्रमाण पत्र सीओ/एसडीओ द्वारा ही निर्गत होना चाहिए। प्रवेश परीक्षा में सफल होने के बाद भी सत्यापन में प्रमाण पत्र सही नहीं पाये जाने पर नामांकन नहीं किया जायेगा.

क्यों हुआ नियम में परिवर्तन :-

पहले नेतरहाट स्कूल में फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर बिहार के कई छात्र एडमिशन ले लिया करते थे। कुछ छात्रों का नामांकन भी रद्द कर दिया गया है। वर्ष 2021 में जब कोविड संक्रमण के बाद स्कूल खुला तो कुछ छात्रों द्वारा सौंपी गई कोविड जांच रिपोर्ट में पता बिहार के विभिन्न जिलों का था। कोविड जांच रिपोर्ट पटना, जमुई और नालंदा जिलों के मिले थे।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

नेतरहाट स्कूल में एडमिशन