Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

इस्कॉन रांची ने किया गीता जयंती महोत्सव का भव्य आयोजन, प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में 5,000 प्रतियोगियों ने लिया हिस्सा

रांची : कांके रोड स्थित इस्कॉन मंदिर धीरे-धीरे कीर्तन, प्रसादम वितरण और सभी आयु वर्ग के लोगों के लिए आध्यात्मिक प्रशिक्षण प्रदान करने जैसी आनंदमय भक्ति गतिविधियों के लिए शहर का पसंदीदा केंद्र बनता जा रहा है।

इस्कॉन रांची केंद्र में ‘गीता जयंती महोत्सव ‘ इस रविवार 4 दिसंबर को बड़े भक्ति भाव और उत्साह के साथ मनाया गया। कार्यक्रम के अंतर्गत मंदिर परिसर में इकट्ठे हुए भक्तों द्वारा भगवद गीता के सभी 700 श्लोकों का पाठ प्रातः काल से शुरू हो गया था। उसके पश्चात् एकत्रित भक्त मधुर कीर्तन का आनंद पुरे दिन लेते रहे। शाम को प्रह्लाद रविवार स्कूल के बच्चों और Learn Gita Live Gita (LGLG) पाठ्यक्रम के प्रतिभागियों द्वारा नृत्य और नाटक की प्रस्तुति की गयी।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस कार्यक्रम में गीता जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित गीता प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कार वितरित किए गए। इनमे से एक प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता स्कूल के बच्चों के लिए आयोजित की गयी थी। NIAMT रांची के 200+ इंजीनियरिंग छात्रों के लिए एक और गीता प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। इस्कॉन रांची और LGLG के सौजन्य से आयोजित एक महीने से ज्यादा चलने वाली गीतानुशीलनम 2022, जिसमे 5,000 से ज्यादा प्रतियोगी सम्मिलीत थे। प्रतियोगिता के विजेताओं और अच्छा प्रदर्शन करने वालों प्रतियोगिओं को भी आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में उनके प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया गया। इसके बाद इस्कॉन यूथ फोरम के युवा भक्तों द्वारा एक गहन, जोरदार नाटक का मंचन किया गया।

इस्कॉन रांची केंद्र के महाप्रबंधक मधुसूदन मुकुंद दास ने एक खुशहाल और अधिक सार्थक जीवन के लिए सभी स्तरों पर और सभी क्षेत्रों में भगवद गीता की शिक्षाओं को लागू करने पर जोर दिया। उन्होंने यह भी बताया कि जब तक कोई सर्वशक्तिमान भगवान् कृष्ण के बारे में जानने का प्रयास नहीं करता, तब तक वह स्वयं को नहीं समझ सकता। इसे सुविधाजनक बनाने के लिए उन्होंने जनवरी 2023 से शुरू होने वाले नए LGLG बैच के लॉन्च की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि लोग अपने जीवन में भगवद गीता की शिक्षाओं को व्यावहारिक रूप से कैसे लागू करें, यह जानने के लिए इस पाठ्यक्रम के लिए पंजीकरण कर सकते हैं। यह पाठ्यक्रम हमें भगवद गीता को जीवन की नियमावली के रूप में मानना सिखाता है और इसकी सीखों का व्यावहारिक रूप से अनुसरण किया जा सकता है, जो एक संतुलित जीवन जीने में रुचि रखते हैं, भले ही वे किसी भी पृष्ठभूमि से आते हों।

समारोह के दौरान, इस्कॉन रांची ने 15 जनवरी 2023 तक गीता मैराथन उत्सव के तहत 5100 भगवद गीता पुस्तकें वितरित करने का संकल्प लिया है। इस संकल्प को अरुणदेव कुमार, डॉ राकेश कुमार, डॉ कमलेश कृष्ण दास, गोविन्द दास, ज्ञानवर्धन लाल और अन्य वरिष्ठ भक्तों के पुस्तक वितरण प्रयास द्वारा समर्थित किया जाएगा। पुस्तक वितरण के लिए भक्तों के इस प्रयास को मधुसूदन मुकुंद दास ने बढ़ावा देते हुए बताया कि भगवद गीता वितरण और इसकी शिक्षाओं के प्रचार में शामिल लोग भगवान कृष्ण को सबसे अधिक प्रिय हैं।

केंद्र में एकत्रित सभी भक्तों को स्वादिष्ट रात्रि भोज प्रसादम की थालियां परोस कर कार्यक्रम का समापन हुआ।