Breaking :
||लातेहार: अब मनिका के डुमरी में दिखा आदमखोर तेंदुआ, गांव में मचा कोहराम, घर में दुबके लोग||लातेहार: किडजी प्री स्कूल में “विद्यारंभ संस्कार” का आयोजन, अभिभावक आमंत्रित||रांची: 10 लाख का इनामी PLFI सब जोनल कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरफ्तार||राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 22 अधिकारियों और कर्मचारियों को करेंगे सम्मानित||आईईडी ब्लास्ट में फिर एक जवान घायल, लाया गया रांची||लातेहार जिले के लिए गौरव भरा पल…राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर राज्यपाल ने डीसी को किया सम्मानित||पलामू में अंतरराज्यीय गिरोह के नौ अपराधी गिरफ्तार, दो करोड़ की रंगदारी मांगने सहित आधा दर्जन मामलों का खुलासा||25 लाख के इनामी माओवादी नवीन यादव ने किया आत्मसमर्पण, 100 से अधिक बड़े नक्सली हमलों में रहा है शामिल||मतदाता सूची सुधार एवं आधार प्रमाणीकरण कार्य में लातेहार जिला झारखंड में अव्वल, डीसी होंगे सम्मानित||पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया PLFI का एरिया कमांडर, हथियार बरामद

शिक्षा व्यवस्था में सुधार करें, नहीं तो स्कूलों को निजी हाथों में सौंप दिया जाएगा : शिक्षा मंत्री

चंद्रपुरा : राज्य के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो राज्य के सरकारी स्कूलों में शिक्षा व्यवस्था को मजबूत करने को लेकर काफी गंभीर हो गए हैं। सोमवार को शिक्षा मंत्री ने चंद्रपुरा प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय दुगदा कोल वाशरी चंदुआडीह का निरीक्षण किया।

उन्होंने प्रधानाध्यापिका रंजू कुमारी सिंह से स्कूल का रजिस्टर मांगा और चेक किया. शिक्षा व्यवस्था पर नाराजगी जताते हुए मंत्री ने शिक्षा व्यवस्था में सुधार लाने के निर्देश दिए। यह पूछे जाने पर कि सरकार हर साल एक बच्चे पर कितना खर्च करती है, प्रधानाध्यापिका जवाब नहीं दे सकीं।

मंत्री ने कहा कि सरकार एक साल में प्रति बच्चे 22 हजार खर्च करती है। ऐसे में अगर शिक्षा व्यवस्था में सुधार में कोई देरी होती है तो निजी संस्थानों को स्कूल सौंप दिया जाएगा।

निरीक्षण के दौरान मंत्री ने स्कूल के छठी कक्षा के छात्र रूपेश कुमार से पूछताछ की। मंत्री ने स्कूल के अन्य छात्रों से कई सवाल पूछे, जो संतोषजनक नहीं थे और प्रधानाध्यापिका रंजू कुमारी सिंह को शिक्षा व्यवस्था में सुधार के निर्देश दिए।

साथ ही निरीक्षण के दौरान स्कूल का कमरा और बालकनी जर्जर नजर आया और इसकी मरम्मत कराने की सलाह दी। साथ ही विद्यालय की चारदीवारी के निर्माण का प्रस्ताव जिला कार्यालय को भेंजे। इस दौरान मंत्री के निजी सचिव राजेश महतो मौजूद रहे।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो भी मंगलवार सुबह करीब 6.05 बजे चंद्रपुरा प्रखंड की तारमी पंचायत के नए प्राथमिक विद्यालय भंडारीदह पहुंचे। वहां उन्होंने स्कूल बंद पाया। गेट पर ताला लगा हुआ था। शिक्षा मंत्री ने दूसरा ताला मांग कर गेट पर लगा दिया। कुछ देर बाद प्रधानाध्यापिका ललिता कुमारी स्कूल की प्रभारी पहुंचीं, उन्होंने शिक्षा मंत्री से समय पर स्कूल खोलने को कहा। तभी शिक्षा मंत्री ने ताला खोला।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकारी स्कूलों की शिक्षा व्यवस्था को हर कीमत पर सुधारना होगा. इसके लिए जो करना होगा, किया जाएगा। इसमें शिक्षक मदद करते हैं। ताकि शिक्षा का स्तर ऊंचा किया जा सके। उन्होंने कहा कि स्कूल में जो भी समस्या है उसकी जानकारी दें। समस्या का तत्काल समाधान किया जाएगा।

शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो