Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

गुमला: दुष्कर्म के आरोपियों को परिजनों ने मोटरसाइकिल समेत जिंदा जलाया, एक की मौत दूसरा गंभीर

गुमला : गुमला जिले के सदर थाना क्षेत्र के वसुआ अंबाटोली में दुष्कर्म के दो आरोपियों को मोटरसाइकिल समेत जिंदा जलाए जाने का मामला सामने आया है। घटना बुधवार देर रात की बताई जा रही है।

आरोपी युवकों ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया, जिसके बाद दोनों आरोपी युवक पीड़िता के परिजनों के हाथ लग गए। परिजनों ने दोनों की जमकर पिटाई की और उसके बाद मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा दी। आनन-फानन में दोनों के परिजन गंभीर हालत में इलाज के लिए सदर अस्पताल ले गए, जहां से रिम्स रेफर कर दिया गया। इलाज के दौरान एक युवक की मौत हो गई।

मृतक की पहचान सुनील उरांव के रूप में हुई। जबकि घायल युवक की पहचान आशीष उरांव के रुप में हुई, जिसकी हालत नाजुक बतायी जा रही है।

घटना के बाद इलाके में तनाव को देखते हुए एसडीपीओ, थाना प्रभारी समेत भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। फिलहाल पुलिस घटना के बारे में कुछ भी खुलासा करने से परहेज कर रही है।

जानकारी के मुताबिक दोनों आरोपी और पीड़िता एक ही गांव के रहने वाले हैं। नाबालिग लड़की अपने माता-पिता के साथ शादी समारोह में शामिल होने के लिए अपने रिश्तेदार के घर भंडरा गई थी।

वहां से लौटते समय बस नहीं मिली। रास्ते में पीड़िता के पिता ने सुनील उरांव और आशीष उरांव को मोटरसाइकिल पर वसुआ आते देखा तो उन्होंने बेटी को घर ले जाने को कहा। दोनों युवकों ने नाबालिग लड़की को अपने साथ बिठाया और कार को बीच में ही रोक लिया और बच्ची के साथ दुष्कर्म किया, घटना को अंजाम देकर पीड़िता को घर ले जाकर छोड़ दिया।

बॉलीवुड और मनोरंजन की ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

घर पहुंचने पर पीड़िता ने अपने परिवार वालों को घटना की जानकारी दी। घटना की जानकारी के बाद आक्रोशित परिजनों ने आरोपी युवकों को पोकाटोली स्थित घर से पीट-पीटकर अंबाटोली ले आए और दोनों में मोटरसाइकिल समेत मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा दी।

सूचना मिलने पर पहुंचे युवकों के परिजन, आनन-फानन में गुमला सदर अस्पताल ले गए। जहां से रिम्स रेफर कर दिया गया। हालांकि एक युवक की मौत गुमला सदर अस्पताल में ही हो गयी थी।

गुमला दुष्कर्म