Breaking :
||लातेहार: नहीं रहे पत्रकार मित्र कौशल किशोर पांडेय, सड़क हादसे में गयी जान||बड़ा रेल हादसा: शालीमार से चेन्नई जा रही कोरोमंडल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त, 50 यात्रियों की मौत, 350 से अधिक घायल||पलामू: सतबरवा SBI शाखा में महिला से रुपये उड़ाने वाले संदिग्ध अपराधियों की तस्वीर आयी सामने, सहयोग की अपील||गुमला: मुठभेड़ में मारा गया 2 लाख का इनामी माओवादी एरिया कमांडर लाजिम अंसारी||लातेहार: बालूमाथ में यात्री बस डिवाइडर से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त, महिला समेत दो की मौत||JOB: लातेहार जिले में विशेष भर्ती कैंप का आयोजन, 450 पदों पर प्रशिक्षण के बाद होगी सीधी नियुक्ति||गुमला: शादी समारोह में शामिल होने आयी नाबालिग छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म||लातेहार: चंदवा में फंदे से लटका मिला नवविवाहित जोड़े का शव, एक माह पहले किया था प्रेम विवाह, दो दिन पहले प्रेमी के भाई ने भी कर ली थी ख़ुदकुशी||पलामू: पेड़ से लटका मिला नवविवाहित का शव, दो माह पहले किया था अंतर्जातीय प्रेम विवाह, लातेहार में है मायका||गुमला: सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारा गया दो लाख का इनामी माओवादी राजेश उरांव

गुमला: JJMP ने अपने पूर्व सदस्य के परिवार पर किया हमला, पत्नी और बेटी की मौके पर ही मौत

गुमला : गुमला में उग्रवादियों ने बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। जानकारी के मुताबिक प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन जेजेएमपी सुकरा उरांव की हत्या का बदला लेने के लिए महिला और बच्ची की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। जबकि एक बच्चा समेत दो लोग घायल हो गए हैं। घटना चैनपुर थाना क्षेत्र के जनावल गांव के कंचन मोड़ के पास की है।

मृतकों की पहचान संगठन के पूर्व सदस्य अमरजीत लकड़ा की पत्नी और तीन साल के बच्चे के रूप में हुई है। महिला का नाम नेहा नीति लकड़ा (30 वर्ष) है, बेटी का नाम अनन्या लकड़ा (3 वर्ष) है। जबकि हमले में बेटे अनुज लकड़ा और अमरजीत घायल हो गए हैं।

अमरजीत पर सुकरा उरांव की हत्या का आरोप था। तभी से यह उग्रवादी संगठन के निशाने पर था। बताया जा रहा है कि जेजेएमपी के पूर्व सदस्य और उसके परिवार पर बीती रात हमला किया गया था।

सूत्रों ने बताया कि सोमवार रात जेजेएमपी उग्रवादियों को भनक लगी कि अमरजीत गांव में है। इसके बाद उग्रवादी उसकी हत्या करने गांव पहुंचे। अमरजीत को गांव में उग्रवादियों के आने की सूचना मिली थी। वह अपनी पत्नी और बच्चों के साथ बाइक पर सवार होकर भागने लगा। इस दौरान उग्रवादियों ने उन्हें घेर लिया और पूरे परिवार पर एक साथ हमला कर दिया।

गोली लगने से पत्नी और बच्चे की मौत हो गई, जबकि 5 साल का बच्चा घायल है। बताया जा रहा है कि भागने के दौरान अमरजीत को भी पीठ में गोली लगी है। वह किसी तरह जानवाल गांव के एक घर में छिप कर जान बचाई। पुलिस घायल अमरजीत की तलाश कर रही है।

इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची और मां-बेटी के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए गुमला सदर अस्पताल भेज दिया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *