Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
झारखंड

रामनवमी और सरहुल को लेकर गाइडलाइन जारी, पाबंदियों के साथ शोभायात्रा निकालने की अनुमति

रांची : झारखंड सरकार ने सरहुल और रामनवमी जुलूस सहित अन्य धार्मिक जुलूस निकालने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसके तहत एक जुलूस में 100 लोगों को शामिल होने की अनुमति दी गई है। साथ ही जुलूस के दौरान संगीत या डीजे बजाने पर भी रोक है। इसके अलावा शाम छह बजे तक ही धार्मिक जुलूस निकाले जाएंगे। गाइडलाइन झारखंड के मुख्य सचिव सुखदेव सिंह ने जारी की है।

पाबंदियों के साथ शोभायात्रा निकालने की अनुमति

धार्मिक जुलूसों को अनुमति निम्नलिखित शर्तों के अधीन दी गई है:

*धार्मिक जुलूस में व्यक्तियों की संख्या सौ से अधिक नहीं होगी।

*यदि एक स्थान पर एक से अधिक बार जुलूस निकलता है या जुलूस के स्वागत के लिए व्यवस्था की जाती है तो जुलूस के मिलने के स्थान पर व्यक्तियों की संख्या 1000 से अधिक नहीं होगी।

*धार्मिक जुलूस का समापन शाम 6:00 बजे के बाद नहीं होगा।

*पहले से रिकॉर्ड किया गया संगीत या डीजे बजाना प्रतिबंधित है।

*धार्मिक जुलूस के सभी सदस्य अपने हाथों को सैनिटाइज़ करेंगे और हर समय मुंह और नाक को पूरी तरह से ढककर मास्क पहनेंगे।

*इस संबंध में जिला मजिस्ट्रेट या उनके द्वारा अधिकृत किसी अधिकारी की पूर्व सहमति से ही ऊपर वर्णित प्रावधानों के अनुसार धार्मिक जुलूस निकाला जाएगा।

रामनवमी सरहुल गाइडलाइन