Breaking :
||रांची में बाइक सवार बदमाशों ने पति-पत्नी को मारी गोली, दोनों की मौत||TSPC के जोनल कमांडर ने किया बड़ा खुलासा, झारखंड में हिंसा फैलाने के लिए खरीद रहा था विदेशी हथियार||भारत-इंग्लैंड टेस्ट मैच को लेकर बल्लेबाज शुबमन गिल ने पत्रकारों से कहा- रांची में ही सीरीज जीतने के लिए हम तैयार||पलामू: बच्चों को आशीर्वाद देने निकले किन्नरों से मारपीट, आक्रोश||झारखंड: प्रेमी ने शादी से किया इंकार तो प्रेमिका ने दे दी जान||गढ़वा: JJMP के उग्रवादियों ने पुल निर्माण स्थल पर मचाया उत्पात, मशीनों में की तोड़फोड़, मजदूरों से मारपीट||झारखंड विधानसभा का बजट सत्र 23 फरवरी से, स्पीकर ने की उच्च स्तरीय बैठक||विधायक भानु प्रताप शाही एससी-एसटी एक्ट में बरी, चार लोगों को छह-छह माह कारावास की सजा||रांची पहुंची भारत और इंग्लैंड की टीमें, पारंपरिक अंदाज में हुआ स्वागत||लातेहार: ईंट भट्ठा पर फायरिंग कर अपराधियों ने फैलायी दहशत, कर्मियों को पीटा, संचालक को दी चेतावनी
Thursday, February 22, 2024
झारखंडपलामूपलामू प्रमंडल

झारखंड के राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन पहुंचे पलामू, लहलहे में ग्रामीणों के साथ किया संवाद

पलामू : झारखंड के राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन दो दिवसीय दौरे पर गुरुवार शाम पांच बजे पलामू पहुंचे। राज्यपाल के पलामू सीमा पर पहुंचते ही एनएच 39 स्थित सतबरवा स्थित बकोरिया में उनका स्वागत किया गया। यहां से राज्यपाल मेदिनीनगर सदर प्रखंड के लहलहे पंचायत भवन में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उन्होंने यहां ग्रामीणों से संवाद स्थापित किया।

इसके बाद राज्यपाल को लहलहे पंचायत भवन परिसर में जिला प्रशासन द्वारा गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन आज पलामू जिला के भ्रमण के क्रम में लहलहे पंचायत जाकर ग्रामीणों से संवाद किया। उन्होंने संवाद कार्यक्रम में देश के स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान उल्लेख करते हुए कहा कि हमारे देश के स्वतंत्रता सेनानियों के साहस व बलिदान का परिणाम ही है कि आज हम सभी को स्वतंत्रत देश के नागरिक कहलाने का गौरव है।

उन्होंने कहा कि देश के विकास में हम सभी सहयोग करें। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना अन्तर्गत निर्मित सड़कें चमक रही है। उज्ज्वला योजना से गैस उपलब्ध कराए जा रहे हैं। इससे न केवल महिलाओं को धुआं से मुक्ति मिली है, बल्कि पर्यावरण संतुलन हुआ है। साथ ही आमजनों को धुआं रहित भोजन मिल पा रहा है। पीएम आवास योजना से आमलोगों को पक्के मकान बन रहे हैं। आयुष्मान भारत योजना से लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा संभव हो पाया है। बाबा साहब अंबेडकर योजनान्तर्गत सभी लोगों को लाभान्वित किया जा रहा है।

राज्यपाल ने कहा कि एक समय था कि भूख से लोगों की मृत्यु हो रही थी, लेकिन प्रधानमंत्री ने कोरोना जैसे संक्रमण काल में खाद्यान्न उपलब्ध कराकर देशवासियों को सुरक्षित रखा, जबकि दूसरे देशों ने अपने लोगों को संभाल नहीं सके।

राज्यपाल ने कहा कि हमारे देश ने प्रभावी कोरोना टीका का प्रभावी आविष्कार किया। अपने लोगों का टीकाकरण कर सुरक्षित रखा और दूसरे देशों को भी टीका उपलब्ध कराया, ताकि वे भी सुरक्षित रह सके। उन्होंने कहा कि देश में विश्वविद्यालयों की संख्या बढ़ी, उसमें मूलभूत सुविधाएं बढ़ाई गई। उन्होंने आमलोगों से भी अपील किया कि वे देश के विकास के लिए आगे आएं।

उन्होंने कहा कि स्वयं सहायता समूह का गठन कर महिलाओं को सशक्त एवं स्वावलंबी बनाया गया। देश में बदलाव आ रहे हैं। इस बदलाव को हम लोग अपनी आंखों से देख रहे हैं। बड़ी आबादी के बावजूद भी आज लोग भूखमरी के शिकार नहीं हो रहे हैं। यह सब देश के संपूर्ण विकास से ही संभव हो पा रहा है। उन्होंने कहा कि योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना सरकार का लक्ष्य है। उन्होंने सभी लोगों की सुख, समृद्धि व स्वस्थ जीवन की कामना की।

लहलहे पंचायत के ग्रामीणों के साथ किया संवाद

राज्यपाल ने लहलहे पंचायत के ग्रामीणों के साथ संवाद किया। ग्रामीणों ने अलग-अलग मांग राज्यपाल के समक्ष रखी।

उन्होंने संवाद करते हुए कहा कि विकास में हमेशा सहयोग करें, विकास के रास्ते में बांधा न डालें

ग्रामीणों के सवाल पर राज्यपाल ने कहा कि पावर ग्रिड कारपोरेशन द्वारा जो, जमीन इस क्षेत्र में अधिग्रहण की गई है, उसका मुआवजा दिलाने को लेकर उपायुक्त को रिपोर्ट देने की बातें कहीं। राज्यपाल ने कहा कि पावर ग्रिड की स्थापना होने से मुफ्त बिजली देना संभव नहीं होता। इसके लिए सरकार के स्तर से पहल होती है। सीएसआर के तहत क्षेत्र का विकास कराने के लिए पावर ग्रिड कारपोरेशन से बातचीत की जाएगी। पलामू प्रमंडल में पेयजल एवं सिंचाई सुविधा संबंधी ग्रामीणों की मांग पर राज्यपाल ने कहा कि यह कम बारिश वाला क्षेत्र है। यहां बारिश के पानी को बर्बाद होने से बचाना होगा। मलय डैम से सिंचाई सुविधा बढ़ाने को लेकर राज्यपाल ने उपायुक्त एवं सिंचाई विभाग से विमर्श कर समस्या निदान का भरोसा दिया।

राज्यपाल ने ग्रामीणों को विभिन्न योजनाओं का दिया लाभ

राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने लहलहे पंचायत के ग्रामीणों को विभिन्न योजनाओं का लाभ दिया। उन्होंने लाभुकों के बीच मुख्यमंत्री राज्य वृद्धावस्था पेंशन, स्वामी विवेकानंद नि:शक्त स्वावलंबन पेंशन योजना, मुख्यमंत्री राज्य विधवा सम्मान पेंशन योजना, बिरसा हरित ग्राम योजना, बिरसा सिंचाई कुप की स्वीकृति पत्र प्रदान किया। साथ ही दिव्यांगजनों के बीच ब्लाइंड स्टीक, ट्राईसाईकिल का वितरण किया। लक्ष्मी लाडली योजना अंतर्गत लाभुकों को राष्ट्रीय बचत पत्र दिया गया। साथ ही मनरेगा योजना के तहत लाभुकों को जॉब कार्ड प्रदान किये गये।

उपायुक्त आंजनेयुलू दोड्डे ने राज्यपाल सहित अन्य अतिथियों का स्वागत करते हुए लहलहे पंचायत के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन उप विकास आयुक्त रवि आनंद ने की।

कार्यक्रम में इनकी रही उपस्थिति

लहलहे के पंचायत भवन में आयोजित संवाद कार्यक्रम में नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय के कुलपति तपन कुमार सांडिल्य, पलामू आईजी राजकुमार लकड़ा, पलामू उपायुक्त आंजनेयुलू दोड्डे, पुलिस अधीक्षक चंदन कुमार सिन्हा, वन प्रमंडल पदाधिकारी सौमित्र शुक्ला, उप विकास आयुक्त रवि आनंद, सहायक समाहर्ता श्रीकांत विस्पुते, अपर समाहर्ता सुरजीत कुमार सिंह, सदर अनुमंडल पदाधिकारी राजेश साह, नजारत उपसमाहर्ता शैलेश कुमार सिंह, सदर प्रखंड विकास पदाधिकारी अमिताभ भगत सहित जिला एवं प्रखंड के अन्य पदाधिकारी, लहलहे पंचायत की मुखिया पूनम यादव, पंचायत समिति सदस्य अपर्णा तिवारी, उप मुखिया पंचदेव साव, वार्ड सदस्य पूनम देवी, मनु तिवारी आदि जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

गौरतलब है कि राज्यपाल दो दिन पलामू जिले में रहेंगे। लहलहे पंचायत भवन में कार्यक्रम के बाद राज्यपाल मेदिनीनगर सर्किट हाउस पहुंचे। यहां वे रात्रि विश्राम करेंगे। राज्यपाल 9 जून को सुबह 10 बजे मेदिनीनगर परिषद में पीड़ित मुआवजा वितरण कार्यक्रम में शामिल होंगे। जिले के रामगढ़ प्रखंड के नावाडीह पंचायत के सुरंगाही टोला के ग्रामीणों से सुबह 11 बजे सीधा संवाद कार्यक्रम है. इसमें शामिल होने के बाद राज्यपाल उसी दिन दोपहर 12.15 बजे गढ़वा के रमकंडा के लिए जनता से रूबरू होने के लिए रवाना होंगे।