Breaking :
||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर
Sunday, February 25, 2024
उत्तरी छोटानागपुरझारखंड

छात्रा सुसाइड मामला: थप्पड़ मारने वाली शिक्षिका व प्रिंसिपल गिरफ्तार

धनबाद : छात्रा की सुसाइड मामले में पुलिस ने तेतुलमारी स्थित सेंट जेवियर्स स्कूल की शिक्षिका और प्रिंसिपल को गिरफ्तार कर लिया है।

10वीं कक्षा की 17 वर्षीय छात्रा की आत्महत्या के मामले में तेतुलमारी थाने में मामला दर्ज किया गया है। उन पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया गया है। शिकायत के आधार पर शिक्षिका सिंधु सिंह और प्रधानाध्यापक आरके सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। कोर्ट में पेशी के बाद दोनों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

इसे भी पढ़ें :- झारखंड: स्कूल में शिक्षिका ने मारा थप्पड़ तो छात्रा ने कर ली खुदकुशी, पैकेट में पुलिस के नाम छोड़ा सुसाइड नोट, जानें वजह

छात्रा की मां ने कहा कि उनकी बेटी की मौत के लिए शिक्षिका सिंधु सिंह और प्रिंसिपल राजकिशोर सिंह जिम्मेदार हैं। तेतुलमारी थाने में दर्ज प्राथमिकी में बताया गया है कि सोमवार को जब बेटी बिंदी लगाकर स्कूल गयी थी, तो शिक्षक ने उसे दो थप्पड़ मार दिये। इसकी शिकायत जब प्रधानाध्यापक से की गयी तो उन्होंने आरोप को निराधार बताया।

उसे स्कूल से निकाल दिया गया। घर पहुंच कर वह नहाने चली गयी। इसी बीच बेटी ने पंखे से लटककर जान दे दी। घटना से गुस्साये बच्ची के परिजन और आसपास के लोग मंगलवार सुबह करीब 10.30 बजे सेंट जेवियर्स स्कूल पहुंचे और बच्ची का शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। इस बीच जब एक स्थानीय नेता ने शव हटाने की पहल की तो गुस्साये लोगों ने उसे थप्पड़ मार दिया। इसके बाद पुलिस ने किसी तरह उन्हें वहां से बचाया।