Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

पारा शिक्षकों के लिए मूल्यांकन परीक्षा लेने की तैयारी शुरू, जानिये किस स्तर के पूछे जायेंगे प्रश्न

रांची : झारखंड एकेडमिक काउंसिल ने पारा शिक्षक (सहायक अध्यापक) की मूल्यांकन परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी है। इस संबंध में जैक ने झारखंड शिक्षा परियोजना से पारा शिक्षकों के प्रमाणपत्रों के सत्यापन की जानकारी मांगी है। केवल वे पारा शिक्षक जिनके प्रमाणपत्र सत्यापन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है, मूल्यांकन परीक्षा में उपस्थित हो सकते हैं। प्रदेश में कुल 61148 पारा शिक्षक कार्यरत हैं। इनमें से 14042 पारा शिक्षक टेट सफल है।

टेट सफल शिक्षक मूल्यांकन परीक्षा में शामिल नहीं होंगे। 47016 शिक्षकों को मूल्यांकन परीक्षा में शामिल होना होगा। इनमें से करीब 25 हजार शिक्षकों के प्रमाणपत्र सत्यापन की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। झारखंड शिक्षा परियोजना ने जिलों को प्रमाणपत्र सत्यापन की प्रक्रिया जल्द पूरी करने को कहा है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

जैक परीक्षा के संबंध में मॉडल प्रश्न पत्र जारी करेगा। परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए अंक भी निर्धारित किए गए हैं। सामान्य श्रेणी के शिक्षकों के लिए 40 प्रतिशत अंक और आरक्षित वर्ग के शिक्षकों के लिए 35 प्रतिशत अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा। कक्षा एक से पांच तक के शिक्षकों के लिए प्रश्नों का स्तर मैट्रिक और कक्षा छह से आठ के लिए स्नातक स्तर का होगा।