Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी
Tuesday, April 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

पारा शिक्षकों के लिए मूल्यांकन परीक्षा लेने की तैयारी शुरू, जानिये किस स्तर के पूछे जायेंगे प्रश्न

रांची : झारखंड एकेडमिक काउंसिल ने पारा शिक्षक (सहायक अध्यापक) की मूल्यांकन परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी है। इस संबंध में जैक ने झारखंड शिक्षा परियोजना से पारा शिक्षकों के प्रमाणपत्रों के सत्यापन की जानकारी मांगी है। केवल वे पारा शिक्षक जिनके प्रमाणपत्र सत्यापन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है, मूल्यांकन परीक्षा में उपस्थित हो सकते हैं। प्रदेश में कुल 61148 पारा शिक्षक कार्यरत हैं। इनमें से 14042 पारा शिक्षक टेट सफल है।

टेट सफल शिक्षक मूल्यांकन परीक्षा में शामिल नहीं होंगे। 47016 शिक्षकों को मूल्यांकन परीक्षा में शामिल होना होगा। इनमें से करीब 25 हजार शिक्षकों के प्रमाणपत्र सत्यापन की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। झारखंड शिक्षा परियोजना ने जिलों को प्रमाणपत्र सत्यापन की प्रक्रिया जल्द पूरी करने को कहा है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

जैक परीक्षा के संबंध में मॉडल प्रश्न पत्र जारी करेगा। परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए अंक भी निर्धारित किए गए हैं। सामान्य श्रेणी के शिक्षकों के लिए 40 प्रतिशत अंक और आरक्षित वर्ग के शिक्षकों के लिए 35 प्रतिशत अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा। कक्षा एक से पांच तक के शिक्षकों के लिए प्रश्नों का स्तर मैट्रिक और कक्षा छह से आठ के लिए स्नातक स्तर का होगा।