Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
झारखंडरांची

जोहार नहीं माफी यात्रा निकालें मुख्यमंत्री : दीपक प्रकाश

रांची : भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश ने गुरुवार को मुख्यमंत्री की जोहार यात्रा पर तीखी प्रतिक्रिया दी। प्रकाश ने कहा कि ठगबंधन के नेताओं को मुख्यमंत्री के नेतृत्व में खतियानी जोहार नहीं, बल्कि माफी यात्रा निकालने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि आखिर राज्य की जनता इनका अभिनंदन और जोहार क्यों करेगी। आखिर इस सरकार ने जनता को दिया क्या है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

उन्होंने कहा कि क्या राज्य में सत्ता के संरक्षण में सिर से पैर तक फैले भ्रष्टाचार के लिए जनता इनका अभिनंदन करे? क्या युवाओं को प्रतिवर्ष पांच लाख नौकरी और बेरोजगारी भत्ता नहीं देने के लिए इनका अभिनंदन करे? क्या किसानों को धान खरीदी नही करने, पुरानी लाभकारी योजनाओं को बंद करने के लिए जोहार करे? क्या महिलाओं बेटी बहनों के साथ दुष्कर्म का रिकॉर्ड बनाने, घरों में जलाकर मार दिये जाने के लिए अभिनंदन करे।

प्रकाश ने कहा कि दरअसल भाजपा के द्वारा गांव गांव में सरकार की विफलताओं और उसके खिलाफ किये गये जोरदार प्रदर्शन, आंदोलन से यह सरकार पूरी तरह डर चुकी है। इसलिए ये नये नये छलावा लेकर जनता को दिग्भ्रमित करने में जुट गये हैं। उन्होंने कहा कि जिस उपलब्धि को लेकर ये ढिंढोरा पीटने जा रहे हैं उसे खुद राज्य सरकार ने कानूनी पेचीदगियों में फंसा दिया है। इससे स्पष्ट है कि यह केवल दिखाने का दांत है। जनता को कोई लाभ देने की मंशा हेमंत सरकार की नही है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को अपने सहयोगी दलों के साथ जनता से घूम घूम कर माफी मांगनी चाहिए। ऐसे झारखंड की जनता इनकी नीति और नीयत को समझ चुकी है और अवसर आने पर जवाब देने के लिए भी तैयार है।