Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की खतियानी जोहार यात्रा कल से शुरू

रांची : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की खतियानी जोहार यात्रा कल 8 दिसंबर से शुरू हो रहा है. मुख्यमंत्री गढ़वा से इसकी शुरूआत करेंगे. जोहार यात्रा के जरिए हेमंत सरकार जनता के बीच अपनी उपलब्धियां बतायेगी. इस यात्रा को लेकर दौरान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सभी जिलों में अधिकारियों के साथ विभिन्न योजनाओं की समीक्षा भी करेंगे. यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री जनता से रू-ब-रू होंगे. वहीं, स्थानीय जिला प्रसाशनिक विभिन्न योजनाओं की समीक्षा करेंगे. जिससे जनता को लाभ मिल सके.

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन 8 दिसंबर से 16 दिसंबर तक गढ़वा, पलामू, गुमला, लोहरदगा, गोड्डा और लेकर देवघर में खतियानी जोहार यात्रा पर रहेंगे. इस दौरान मुख्यमंत्री सभी जिलों में एक-एक दिन रुकेंगे. इसके अलावा जिले की योजनाओं की समीक्षा भी करेंगे. जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री के इस जिला चर्चा है की होगी. मुख्यमंत्री जिलों में रात्रि विश्राम भी करेंगे. मुख्यमंत्री के साथ राज्य सरकार में शामिल घटक दल के नेता और मंत्री भी मौजूद रहेंगे.

इधर, जोहार यात्रा के तहत 18 जोहार मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन 16 दिसंबर को देवघर पहुंचेंगे. इसको लेकर जिला प्रसाशनिक स्तर पर तैयारी है. शुरू कर झामुमो की जिला इकाई भी अपने समीक्षा स्तर से तैयारी कर रहा है.
पहले दिन मुख्यमंत्री कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे

हर प्रमंडल के दौरे के पहले दिन मुख्यमंत्री जिले में कार्यकर्ताओं के साथ आम बैठक करेंगे. आम बैठक में वे गठबंधन के कार्यकर्ताओं की बातों को सुनेंगे। कार्यकर्ताओं के बीच कोई नाराजगी होगी, तो मुख्यमंत्री उसे दूर करेंगे. दूसरे दिन मुख्यमंत्री दूसरे जिले पहुंचेंगे, जहां वे रिव्यू मीटिंग करेंगे. इसमें दोनों जिलों और प्रमंडल के अधिकारी और जनप्रतिनिधि उपस्थित रहेंगे. उसी दिन वे दूसरे जिले में कार्यकर्ताओं के साथ जनसभा करेंगे.
खतियानी जोहार यात्रा के दौरान हर जिले में संयुक्त रूप से रैलियां निकाली जाएंगी। इसमें यूपीए के सभी नेता शामिल रहेंगे. रैलियों के जरिए मुख्यमंत्री और यूपीए नेता घोषणापत्र में किए वादों को भी जनता को बताएंगे, जो इस प्रकार हैं.

पुरानी पेंशन योजना बहाली का काम.
ओबीसी वर्ग सहित अनुसूचित जनजाति और अनुसूचित जाति के आरक्षण का दायरा बढ़ाना.
किसानों के लिए ऋण माफी और फसल राहत योजना.
पारा शिक्षक, आंगनबाड़ी सेविका और सहायिका के लिए मानदेय और नियमावली.
1932 के खतियान आधारित स्थानीय नीति.
सरना धर्म कोड का प्रस्ताव विधानसभा से पास कर केंद्र को भेजना आदि शामिल हैं.

हेमंत सोरेन पहले चरण में इन जिलों में जाएंगे

08 दिसंबर-गढ़वा
09 दिसंबर-पलामू
12 दिसंबर-गुमला
13 दिसंबर-लोहरदगा
15 दिसंबर-गोड्डा
16 दिसंबर-देवघर