Breaking :
||हेमंत सरकार का निर्णय, सरकारी कार्यक्रमों में ‘जोहार’ शब्द से अभिवादन करना अनिवार्य||सरकार खतियान आधारित स्थानीयता बिल फिर राज्यपाल को भेजेगी : JMM||राज्य स्तरीय झांकी में पलामू किला को मिला पहला स्थान, राज्यपाल ने किया पुरस्कृत||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली

आय से अधिक संपत्ति मामले में बंधु तिर्की दोषी करार, तीन साल की सजा व 3 लाख का लगाया जुर्माना, गई विधायिकी

रांची : आय से अधिक संपत्ति मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने बंधू तिर्की को दोषी ठहराया। अदालत ने उसे तीन साल कैद की सजा सुनाई। साथ ही 3 लाख का जुर्माना भी लगाया गया है। जुर्माना नहीं भरने की स्थिति में छह माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। इसके साथ ही उनकी विधायकी चली गई है।

विशेष न्यायाधीश प्रभात कुमार शर्मा की अदालत ने फैसला सुनाया। इससे पहले हुई सुनवाई में अदालत ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था। बंधु तिर्की के खिलाफ छह लाख 28 हजार की आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज किया गया है। जिस पर सीबीआई की विशेष अदालत ने अपना फैसला सुनाया।

श्री तिर्की पर आरोप है कि उन्होंने अपनी छह लाख 28 हजार की आय से अधिक संपत्ति अर्जित की। सीबीआई ने मामले की जांच की। जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार भी कर लिया गया। हालांकि हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद बंधु तिर्की को भी जमानत मिल गई थी। 2005 से 2009 तक बंधु तिर्की झारखंड में मंत्री रहे। आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का मामला इसी समय का है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *