Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंड

शिक्षा मंत्री का ऐलान, पारा शिक्षकों को देनी होगी मूल्यांकन परीक्षा, सभी का शामिल होना अनिवार्य

पारा शिक्षक मूल्यांकन परीक्षा – पास हुए तो मानदेय में होगी 10 प्रतिशत की वृद्धि

रांची : पारा शिक्षकों की मूल्यांकन परीक्षा अगले माह होगी। शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग को इसकी तैयारी के निर्देश दिए हैं। इसी के मद्देनजर सभी जिलों में पारा शिक्षकों के प्रमाणपत्रों के सत्यापन का काम चल रहा है। यह परीक्षा झारखंड एकेडमिक काउंसिल द्वारा आयोजित की जाएगी। हाल ही में लागू सहायक अध्यापक सेवा शर्त नियमावली के तहत सभी पारा शिक्षकों को इस परीक्षा में शामिल होना अनिवार्य होगा।

यदि कोई पारा शिक्षक उपस्थित नहीं होता है, तो यह माना जाएगा कि उसे इस परीक्षा में बैठने का अवसर मिला है। इस परीक्षा को पास करने के लिए पारा शिक्षकों को अधिकतम चार मौके मिलने चाहिए। बता दें कि विभाग की ओर से परीक्षा पैटर्न तैयार कर लिया गया है। यह परीक्षा झारखंड एकेडमिक काउंसिल द्वारा आयोजित की जाएगी, जो झारखंड बोर्ड की परीक्षा आयोजित करती है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

इस परीक्षा में प्राथमिक और उच्च प्राथमिक दोनों श्रेणी के पारा शिक्षकों से क्रमशः मैट्रिक और इंटरमीडिएट स्तर के वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न पूछे जाएंगे, जिसमें 70 प्रतिशत प्रश्न पाठ्यक्रम से संबंधित होंगे, 20 प्रतिशत प्रश्न शिक्षण कौशल से और 10 प्रतिशत प्रश्न शिक्षण कौशल से संबंधित होंगे. प्रश्न तर्क और मानसिक क्षमता से संबंधित होंगे। .

इस परीक्षा में पास होने के लिए सामान्य वर्ग के पारा शिक्षकों को 40 प्रतिशत और आरक्षित वर्ग के पारा शिक्षकों को 35 प्रतिशत अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा। यह मूल्यांकन परीक्षा पास करने के बाद ही पारा शिक्षकों के मानदेय में 10 प्रतिशत की वृद्धि होगी।

advt

पारा शिक्षक मूल्यांकन परीक्षा