Breaking :
||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री||JPSC पीटी के मॉडल आंसर को चुनौती देने वाली याचिका हाईकोर्ट में खारिज, परीक्षा का रास्ता साफ||लातेहार: सेरेगड़ा पंचायत सेवक अर्जुन राम रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||झारखंड में चार DSP की ट्रांसफर-पोस्टिंग, समीर कुमार सवैया बने किस्को के DSP||झारखंड कैबिनेट का फैसला, सरकार करायेगी जातिगत गणना, विधायकों का वेतन भत्ता बढ़ा, रिटायर्ड कर्मचारियों को भी मिलेगी प्रमोशन||झारखंड को नशामुक्त राज्य बनाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध, हर किसी की सहभागिता जरूरी : मुख्यमंत्री||वन भूमि से कब्जा हटाने गयी टीम पर ग्रामीणों का हमला, पत्थरबाजी में वन क्षेत्र पदाधिकारी समेत एक दर्जन घायल||झारखंड में इस तारीख को मानसून की एंट्री, बारिश और वज्रपात का अलर्ट||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस
Friday, June 21, 2024
गढ़वा

गढ़वा: झामुमो नेता की हत्या के मामले में दो लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज, मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने दिया जनाजे को कंधा

गढ़वा : जिले के चिनिया में गुरुवार शाम को झामुमो की केंद्रीय समिति के सदस्य सह मुखिया पति अयूब मंसूरी की अपराधियों ने हत्या कर दी। इस मामले में मृतक के बड़े भाई यासीन मंसूरी द्वारा चिनिया थाने में दो लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। वहीं, मंत्री मिथिलेश ठाकुर भी अयूब के अंतिम संस्कार में शामिल होने पहुंचे। हालांकि इस मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है।

झामुमो नेता अयूब मंसूरी की फ़ाइल फोटो-ट्विटर

मृतक के बड़े भाई यासीन की ओर से पुलिस को दी गयी अर्जी में आरोप लगाया गया कि चिनिया के रहने वाले बाल्मीकि गुप्ता और सद्दाम अंसारी ने मिलकर राजनीतिक रंजिश के तहत उसके भाई की हत्या कर दी। आवेदन में दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर पुलिस से दंडित करने की मांग की गयी है।

वहीं, इस घटना को लेकर चिनिया में शुक्रवार को काफी आक्रोश देखा गया. सभी व्यवसायियों ने अयूब अंसारी की हत्या के विरोध में अपनी-अपनी दुकानें को बंद रखा. चिनिया से यात्री वाहनों का परिचालन पूरी तरीके से बंद रहा. इस घटना से पूरे चिनिया प्रखंड पूरे दिन मातम छाया रहा. सभी समुदाय के लोगों में शोक की लहर देखी गई.

वहीं इस घटना को लेकर शुक्रवार को चिनिया में काफी आक्रोश देखा गया। अयूब अंसारी की हत्या के विरोध में सभी कारोबारियों ने अपनी दुकानें बंद रखीं। चिनिया से यात्री वाहनों का परिचालन पूरी तरह बंद रहा।

इधर, दोपहर में जब अयूब का अंतिम संस्कार हुआ तो उसमें लोगों की भारी भीड़ थी। अंतिम संस्कार में सभी समुदायों के लोगों ने भाग लिया। बाद में रांची से मंत्री सह स्थानीय विधायक मिथिलेश कुमार ठाकुर भी हेलीकॉप्टर से चिनिया पहुंचे और संवेदना व्यक्त करते हुए जनाजे को कंधा दिया। इसके साथ ही मंत्री ने अयूब के परिजनों को दो लाख रुपये का चेक भी भेंट किया।

घटना को लेकर रंका एसडीपीओ सुदर्शन कुमार आस्तिक ने बताया कि मृतक के बड़े भाई का आवेदन मिला है। पुलिस द्वारा आवेदन के आलोक में मामले की जांच की जा रही है। वहीं, गढ़वा के पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर एसआईटी की टीम गठित की गयी है। पुलिस पूरे मामले की गहनता से जांच कर रही है। जल्द ही मामले का खुला कर दिया जाएगा।

बता दें कि गुरुवार की शाम को अयूब मंसूरी की हत्या अज्ञात लोगों ने कर दी थी, जब वह रोज की तरह शाम को मस्जिद की ओर काम से निकल रहा था। बताया जाता है कि करीब सात बजे जैसे ही वह गांव के सफीक अंसारी के घर के पास पहुंचा तो अज्ञात लोगों ने उस पर लगातार दो गोलियां चला दीं। इसमें एक गोली उनकी गर्दन में लगी, जबकि दूसरी गोली कमर के नीचे लगी। जिससे वह मौके पर ही गिर पड़ा। आनन-फानन में लोग उसे सदर अस्पताल गढ़वा ले गए और इलाज के लिए भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।