Breaking :
||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री||JPSC पीटी के मॉडल आंसर को चुनौती देने वाली याचिका हाईकोर्ट में खारिज, परीक्षा का रास्ता साफ||लातेहार: सेरेगड़ा पंचायत सेवक अर्जुन राम रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||झारखंड में चार DSP की ट्रांसफर-पोस्टिंग, समीर कुमार सवैया बने किस्को के DSP||झारखंड कैबिनेट का फैसला, सरकार करायेगी जातिगत गणना, विधायकों का वेतन भत्ता बढ़ा, रिटायर्ड कर्मचारियों को भी मिलेगी प्रमोशन||झारखंड को नशामुक्त राज्य बनाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध, हर किसी की सहभागिता जरूरी : मुख्यमंत्री
Friday, June 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरबिहार

नौ महीने बाद जेल से रिहा हुए यूट्यूबर मनीष कश्यप, समर्थकों ने किया जोरदार स्वागत

पटना : यूट्यूबर मनीष कश्यप करीब नौ महीने के बाद जेल से बाहर आ गये। इस दौरान पटना में उनके समर्थकों ने हीरो की तरह उनका स्वागत किया। मनीष कश्यप ने हुंंकार भरते हुए कहा कि वह जो काम करते थे आगे भी वही काम करेंगे। बिहार के आम लोगों की आवाज बनेंगे। साथ ही कहा कि उनके समर्थकों के दुआ और आशीर्वाद के कारण वह आज बाहर आये हैं। उनके समर्थकों ने हर कदम पर उनका साथ दिया है। इसके लिए कश्यप ने समर्थकों को धन्यवाद भी दिया।

मनीष कश्यप ने कहा कि वह नौ महीनों से कंस के कब्जे में थे। जैसे कृष्ण भगवान नौ महीने के बाद कंस के कारागार से बाहर आये थे वैसे ही वह भी कंस रूपी कुछ लोगों की चंगुल से बाहर आ गये हैं। मनीष कश्यप के समर्थकों ने हमारा शेर आ गया का नारा भी लगाया।

मनीष कश्यप को जेल से मुक्त करने के मिले आदेश के बाद पटना के आदर्श केन्द्रीय कारा बेऊर जेल के मुख्य द्वार पर मनीष कश्यप के समर्थकों और प्रशंसकों का तांता लगा हुआ था। सैकड़ों की संख्या में लोगों की भारी भीड़ ने बेऊर जेल प्रशासन की मुश्किलें बढ़ा दी थी। मनीष कश्यप के बाहर आते ही उनके समर्थकों ने उनका अभिवादन किया।

गौरतलब है कि हाई कोर्ट से मिली जमानत के आधार पर आर्थिक अपराध इकाई की पटना सिविल कोर्ट स्थित विशेष न्यायालय ने यूट्यूबर मनीष कश्यप के रिहाई के आदेश जारी किया था। आर्थिक अपराधी इकाई की विशेष न्यायाधीश सारिका वहालिया ने मुक्ति के आदेश अभिरक्षा में पेशी के दौरान यूटूबर मनीष कश्यप द्वारा हथकड़ी पहने बयान देने मामले में हुई है। तमिलनाडु में बिहारी मजदूरों के साथ हिंसा के फर्जी वीडियो जारी करने के तीन अन्य मामलों में मनीष कश्यप उर्फ त्रिपुरारी कुमार के जारी पेशी वारंट को उसके अनुरोध पर वापस ले लिया गया। बाकी अन्य तीन मामलों में मनीष कश्यप की जमानत हो चुकी है।

Patna Manish Kashyap released jail