Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

खुलासा: प्रेम प्रसंग में हुई थी युवक की हत्या, प्रेमिका समेत 4 गिरफ्तार

लातेहार : सदर थाना क्षेत्र के मननचोटाग में विगत 19 अगस्त को हुई युवक हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। इस मामले में पुलिस ने युवक की प्रेमिका समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

गिरफ्तार आरोपियों में प्रेमिका अमृता कुमारी, राजमोहन उरांव, सुरेश उरांव, व एक नाबालिक बच्चा (सभी माननचोटाग, लातेहार) शामिल है।

Raja AD

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस संबंध में जानकारी देते हुए एसडीपीओ संतोष कुमार मिश्रा ने बताया कि विगत 18 अगस्त को सदर थाना क्षेत्र के मननछोटाग गांव के समीप रेलवे ट्रैक से एक युवक का शव बरामद किया गया था। जिसकी पहचान रामू उरांव के रूप में हुए थी। घटना के बाद मृतक की पत्नी अनीता देवी के फर्द बयान के आधार पर थाने में मामला दर्ज किया गया था।

इस हत्याकांड के उद्भेदन के लिए जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर एसडीपीओ के नेतृत्व में एक छापामारी दल का गठन किया गया। मामले की जांच के क्रम में पुलिस ने मृतक की प्रेमिका समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इनकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त एक खून से सना सूती कपड़ा व एक लोहे का फार बरामद किया है।

उन्होंने आगे बताया कि जांच के क्रम में पता चला के आरोपी अमृता कुमारी उर्फ तेतरी का मृतक रामू उरांव से प्रेम प्रसंग चल रहा था। जिसका विरोध अमृता कुमारी के परिजनों द्वारा किया जा रहा था। पूर्व में भी अमृता कुमारी के परिजनों ने मृतक रामू उरांव को जान से मारने की धमकी दी थी। इसके बावजूद मृतक रामू और अमृता का संबंध बना रहा।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

पुलिस ने बताया कि इसी बीच 18 अगस्त की रात मृतक रामू उरांव प्रेमिका अमृता कुमारी के साथ उसके घर के सामने बातचीत कर रहे थे। इसी बीच आरोपियों ने उसकी हत्या की योजना बनाई। योजना के मुताबिक हल के फार से मारकर रामू राम की हत्या कर दी गई।

Raja AD 2

हत्या के बाद प्रेमिका अमृता ने भी आरोपियों के साथ मिलकर साक्ष्य मिटाने का प्रयास किया एवं मृतक के शव को रेलवे लाइन के किनारे फेंक दिया। ताकि लोगों को लगे कि ट्रेन का धक्का लगने से उसकी मौत हुई है।

छापामारी दल में पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी अमित कुमार गुप्ता, पुलिस अवर निरीक्षक धर्मेंद्र कुमार महतो, पुलिस अवर निरीक्षक दीप नारायण सिंह, पुलिस अवर निरीक्षक राज रोशन सिन्हा व सशस्त्र बल के साथ महिला पुलिस बल शामिल थे।