Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: हेरहंज-मनिका पथ पर हुए सड़क हादसे में युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल

लातेहार : जिले के बालूमाथ पुलिस अनुमंडल क्षेत्र के हेरहंज-मनिका पथ पर बंदुआ गांव के पास शनिवार की सुबह ऑटो दुर्घटना में एक युवक की दर्दनाक मौत हो गयी। मृतक की पहचान बालूमाथ थाना क्षेत्र के हाथडीह गांव निवासी मनोज यादव (36) के रूप में की गयी है। बताया जाता है कि वह हाथडीह गांव निवासी बंधु यादव का इकलौता पुत्र था।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार की अहले सुबह मनोज यादव और उनके कई रिश्तेदार ऑटो से मनिका से अपने घर हाथडीह लौट रहे थे। इसी दौरान बंदुआ मोड़ के पास तीखे मोड़ पर ऑटो दुर्घटनाग्रस्त हो गयी, जिसके नीचे मनोज यादव काफी देर तक दबे रहे। इसके बाद मनोज यादव को स्थानीय निजी क्लिनिक में ले जाया गया जहां डॉक्टर ने परीक्षण के बाद उसे मृत घोषित कर दिया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इसी बीच इस घटना की जानकारी परिजनों द्वारा हेरहंज थाने को दी गयी। इसके बाद हेरहंज थाना पुलिस बालूमाथ के हाथडीह गांव पहुंची और शव को कब्जे में लेकर अंत्य परीक्षण के लिए लातेहार भेज दिया और मामले की जांच शुरू कर दी। हेरहंज थाना प्रभारी नीतीश कुमार ने दुर्घटनाग्रस्त ऑटो को जब्त कर लिया है।

मृतक मनोज यादव के तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं। इस घटना के बाद मृतक के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है और पूरे इलाके में शोक की लहर है। इसे समाज के लिए अपूरणीय क्षति बताया जा रहा है। बताया जा रहा है कि मृतक हर सामाजिक और धार्मिक गतिविधियों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेता था। लेकिन होनी को कौन टाल सकता है?

Herhanj Latehar Accident News