Breaking :
||लातेहार: नियमों की अनदेखी कर बालूमाथ में ग्रामीण सड़क से हो रही कोयले की ढुलाई, सैकड़ों बच्चे स्कूल जाने से वंचित||पलामू: बेटों की कुकर्मों से सामाजिक प्रतिष्ठा दांव पर लगने के कारण अधेड़ दम्पति ने कर ली खुदकुशी||धनबाद जेल में गैंगस्टर अमन सिंह की हत्या के मामले में जेलर निलंबित, दो पिस्तौल बरामद||धनबाद जेल में अमन सिंह की हत्या मामले में हाईकोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान, आईजी को कोर्ट में पेश होने का निर्देश||पलामू: धनबाद जेल में हुई घटना के बाद मेदिनीनगर सेंट्रल जेल में छापा, बंद हैं कई बड़े कुख्यात सरगना||लातेहार: बालूमाथ में शराब की दुकान हैंडओवर लेने पहुंची कंपनी को अंग्रेजी शराब की पेटी में भरी मिली ईंट||रिम्स में इलाज करा रहा कैदी शाकिब पुलिस को चकमा देकर फरार||लातेहार: स्कॉर्पियो व बाइक की टक्कर में घायल दोनों युवकों की रिम्स में इलाज के दौरान मौत||भाजपा प्रदेश कार्यालय में जश्न का माहौल, बाबूलाल मरांडी बोले देश में मोदी की गारंटी||धनबाद जेल में बंद पूर्व मेयर नीरज सिंह हत्याकांड के आरोपी अमन सिंह की गोली मारकर हत्या
Tuesday, December 5, 2023
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहारहेरहंज

लातेहार: प्रसव के लिए हेरहंज स्वास्थ्य केंद्र आयी महिला को चिकित्सक के अभाव में एएनएम ने किया रेफर, महिला ने वाहन में ही बच्चे को दिया जन्म

प्रदीप यादव/हेरहंज

लातेहार : जिले के हेरहंज प्रखंड मुख्यालय स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सह हेल्थ वेलनेस सेंटर में गुरुवार की रात होंजर निवासी रिझो देवी और उनके पति राजू गंझू प्रसव पीड़ा के बाद प्रसव के लिए निजी वाहन से रात 9 बजे आये थे। आधे घंटे के बाद रात्रि सेवा में कार्यरत एएनएम द्वारा उसे लातेहार सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया।

प्रसव पीड़ा से पीड़ित महिला को ले जाने के लिए विभाग की ओर से न तो एंबुलेंस की व्यवस्था की गयी और न ही किसी वाहन की व्यवस्था की गयी। प्रसव पीड़ा से जूझ रही महिला को निजी वाहन से लातेहार जाना पड़ा। अंततः लातेहार जाने के दौरान रास्ते में महिला ने वाहन में ही एक बच्ची को जन्म दे दिया। मां और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। मामले की जानकारी जब स्थानीय पत्रकारों को हुई तो उन्होंने प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. प्रकाश बड़ाईक को इसकी जानकारी दी।

मामले की जानकारी मिलने के बाद प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ने मामले को संज्ञान में लिया और शनिवार को हेरहंज स्वास्थ्य केंद्र पहुंचकर जांच की और मामला सत्य पाया। हेरहंज स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर के नहीं रहने से मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। छोटी-मोटी बीमारियों के इलाज के लिए उन्हें बालूमाथ या लातेहार जाना पड़ता है। प्रसव के लिए आने वाली महिलाओं को प्रसव के लिए एएनएम पर निर्भर रहना पड़ता है। चिकित्सक के अभाव में प्रसव पीड़ित महिलाओं को छोटी-मोटी परेशानी होने पर भी रेफर कर दिया जा रहा है। यही कारण है कि महिला का प्रसव गुरुवार को हेरहंज स्वास्थ्य केंद्र में हो सकता था, लेकिन एएनएम की लापरवाही के कारण उसे रेफर कर दिया गया। जिससे प्रसव पीड़ा से पीड़ित महिला ने रास्ते में ही वाहन में बच्चे को जन्म दे दिया।

इस मामले में जब प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि मामला सही पाया गया है। टीकाकरण के लिए गयी एएनएम से बात करने के बाद स्थिति स्पष्ट हो जायेगी। अगर इसमें कोई स्वास्थ्य कर्मी दोषी पाया गया तो उसे दंडित किया जायेगा।