Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी
Monday, April 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहारहेरहंज

लातेहार: प्रसव के लिए हेरहंज स्वास्थ्य केंद्र आयी महिला को चिकित्सक के अभाव में एएनएम ने किया रेफर, महिला ने वाहन में ही बच्चे को दिया जन्म

प्रदीप यादव/हेरहंज

लातेहार : जिले के हेरहंज प्रखंड मुख्यालय स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सह हेल्थ वेलनेस सेंटर में गुरुवार की रात होंजर निवासी रिझो देवी और उनके पति राजू गंझू प्रसव पीड़ा के बाद प्रसव के लिए निजी वाहन से रात 9 बजे आये थे। आधे घंटे के बाद रात्रि सेवा में कार्यरत एएनएम द्वारा उसे लातेहार सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया।

प्रसव पीड़ा से पीड़ित महिला को ले जाने के लिए विभाग की ओर से न तो एंबुलेंस की व्यवस्था की गयी और न ही किसी वाहन की व्यवस्था की गयी। प्रसव पीड़ा से जूझ रही महिला को निजी वाहन से लातेहार जाना पड़ा। अंततः लातेहार जाने के दौरान रास्ते में महिला ने वाहन में ही एक बच्ची को जन्म दे दिया। मां और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। मामले की जानकारी जब स्थानीय पत्रकारों को हुई तो उन्होंने प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. प्रकाश बड़ाईक को इसकी जानकारी दी।

मामले की जानकारी मिलने के बाद प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ने मामले को संज्ञान में लिया और शनिवार को हेरहंज स्वास्थ्य केंद्र पहुंचकर जांच की और मामला सत्य पाया। हेरहंज स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर के नहीं रहने से मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। छोटी-मोटी बीमारियों के इलाज के लिए उन्हें बालूमाथ या लातेहार जाना पड़ता है। प्रसव के लिए आने वाली महिलाओं को प्रसव के लिए एएनएम पर निर्भर रहना पड़ता है। चिकित्सक के अभाव में प्रसव पीड़ित महिलाओं को छोटी-मोटी परेशानी होने पर भी रेफर कर दिया जा रहा है। यही कारण है कि महिला का प्रसव गुरुवार को हेरहंज स्वास्थ्य केंद्र में हो सकता था, लेकिन एएनएम की लापरवाही के कारण उसे रेफर कर दिया गया। जिससे प्रसव पीड़ा से पीड़ित महिला ने रास्ते में ही वाहन में बच्चे को जन्म दे दिया।

इस मामले में जब प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि मामला सही पाया गया है। टीकाकरण के लिए गयी एएनएम से बात करने के बाद स्थिति स्पष्ट हो जायेगी। अगर इसमें कोई स्वास्थ्य कर्मी दोषी पाया गया तो उसे दंडित किया जायेगा।