Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Wednesday, May 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: बेटे ने किया प्रेम विवाह तो पिता को मारी गोली, दो आरोपी गिरफ्तार

Palamu Crime News Today

पलामू : छतरपुर प्रखंड क्षेत्र के खैनी व्यवसायी संतोष साव गोलीकांड का पुलिस ने उदभेदन कर लिया है। इस घटना को तीन अपराधियों ने अंजाम दिया था। पुलिस ने मुख्य आरोपी आशुतोष कुमार सिंह उर्फ बूटा (20) एवं रौशन सिंह (24 ) को गिरफ्तार किया है। आशुतोष छतरपुर के कवल कुरकुटका, जबकि रौशन बिहार के सासाराम जिले के मॉडल थाना क्षेत्र के न्यू एरिया माइका का रहने वाला है। तीसरे आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है।

29 अप्रैल की रात दुकान बढाकर घर लौटने के दौरान खाटिन निवासी संतोष साव को थाना से सटे कन्या मध्य विद्यालय के समीप दो गोली मार दी गयी थी। संतोष का इलाज रांची के मेडिका अस्पताल में चल रहा है।

मामले में छतरपुर के एसडीपीओ नौशाद आलम के नेतृत्व में टीम बनाकर कार्रवाई की गयी। अनुसंधान के दौरान सामने आया कि संतोष का पुत्र विकास ने आशुतोष की बहन काजल से प्रेम विवाह किया था। दोनों से एक पुत्र भी है। काजल के अंतरजातीय विवाह से आशुतोष नाराज था और हमेशा बदलना लेने की फिराक में रहता था। 29 अप्रैल की रात उसने अपने दो साथियों के साथ बाइक से पीछा कर संतोष को गोली मारी थी। आशुतोष और रौशन ने 315 बोर के पिस्टल से दो राउंड गोली चलायी थी।

गोली मारने के बाद सभी लठेया होते हुए बिहार चले गये थे। हालांकि पुलिस जांच देखकर तारडीह में हथियार छुपा दिया था। अनुसंधान के दौरान गुप्त सूचना पर पुलिस ने आशुतोष और रौशन को बिहार के सासाराम जिले के नोखा थाना क्षेत्र के बरांव गांव में शरण लिए हुए हैं। उन्हें वहां से गिरफ्तार किया। उनके पास से घटना में इस्तेमाल दो देशी कट्टा, तीन जिंदा गोली और चार मोबाइल फोन बरामद किया गया। दोनों ने घटना में संलिप्तता स्वीकार की है। हालांकि आशुतोष ने भी अंतरजातीय विवाह किया है। बावजूद अपनी बहन के अंतरजातीय विवाह से नाराज था।

Palamu Crime News Today