Breaking :
||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत||बालूमाथ: शार्ट सर्किट से हाइवा वाहन में लगी आग, जलकर राख||बालूमाथ: महिला का अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ठगे सात लाख रुपये, गिरफ्तार||बालूमाथ: सरस्वती पूजा को लेकर निकाली गयी शोभायात्रा पर मधुमक्खियों का हमला, मची अफरा-तफरी||लातेहार: बालूमाथ में अवैध कोयला लदा पांच हाइवा जब्त, तीन गिरफ्तार||लातेहार: अब मनिका के डुमरी में दिखा आदमखोर तेंदुआ, गांव में मचा कोहराम, घर में दुबके लोग||लातेहार: किडजी प्री स्कूल में “विद्यारंभ संस्कार” का आयोजन, अभिभावक आमंत्रित||रांची: 10 लाख का इनामी PLFI सब जोनल कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरफ्तार||राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 22 अधिकारियों और कर्मचारियों को करेंगे सम्मानित

झारखंड बालिका आवासीय विद्यालय की वार्डन पर लापरवाही बरतने का आरोप, कार्रवाई की मांग

बारियातू/संजय राम

लातेहार : झारखंड बालिका आवासीय विद्यालय बारियातू के अध्यक्ष आनंद उरांव ने विद्यालय के वार्डन पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है।

अध्यक्ष आनंद ने प्रखंड प्रमुख महावीर उरांव को लिखित आवेदन देकर बताया कि मैं 23 दिसंबर गुरुवार को विद्यालय पहुंचा तो वार्डन सहित एक भी शिक्षिका विद्यालय में उपस्थित नही थी। गुरुवार से ही विद्यालय एक सप्ताह के लिए बंद हो रहा था, जिस कारण विद्यालय में अध्यनरत छात्राएं अपने घर जाने की तैयारी में थीं। लेकिन वार्डन सहित कोई शिक्षिका नही रहने से छात्राएं काफी परेशानी थी। विद्यालय में उनकी देख-रेख करने वाला भी कोई नही था।

आवेदन में आगे बताया गया है कि पूर्व में भी वार्डन इस तरह की लापरवाही करती रही हैं। जिसकी सूचना प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी को भी दी गई है, फिर न तो कोई करवाई की गई है न ही कोई सुधार हुआ है। विद्यालय में विषयवार शिक्षकों की भी कमी है।

विद्यालय के अध्यक्ष सहित अन्य अभिभावकों ने वार्डन सहित अन्य शिक्षिकाओं की शिक्षण कार्य शैली में सुधार लाने या स्थानांतरण करने की मांग किया है।

इस संबंध में प्रखंड प्रमुख महावीर उरांव ने कहा कि विद्यालय के अध्यक्ष सहित अन्य अभिभावकों ने दूरभाष पर जानकारी दिया कि विद्यालय से वार्डन सहित अन्य शिक्षिका गायब है। इस सूचना पर जब मैं विद्यालय पहुंचा तो वार्डन सहित कोई शिक्षिका को भी उपस्थित नही थी, जो इनकी लापरवाही को दर्शाता है। लिखित आवेदन मिला है कार्रवाई के लिए जिले के अधिकारियों को प्रेषित किया जाएगा।

आवेदन देने वालो में मुख्य रूप से रामचंद्र गंझू, पंकज कुमार यादव, धनेश्वर कुजूर, प्रमोद राम, नरेश उरांव, रामजतन पंडित, बसंती देवी, अमीर गंझू सहित अन्य अभिभावक शामिल हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *