Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Wednesday, May 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरगढ़वापलामू प्रमंडल

गढ़वा: सरकारी आवास में फंदे से लटका मिला विशुनपुरा BDO का शव, मानसिक रूप से थे परेशान

गढ़वा: जिले के विशुनपुरा ब्लॉक के बीडीओ हीरक मन्ना करकेट्टा ने शनिवार की दोपहर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि उन्होंने अपने सरकारी आवास पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। बताया जा रहा है कि वह मानसिक रूप से काफी परेशान थे। आत्महत्या की सूचना मिलते ही उपायुक्त शेखर जमुआर समेत जिले के अधिकारी उनके सरकारी आवास पहुंचे और पूरे मामले की जानकारी ली। पुलिस भी जांच में जुटी है।

गढ़वा के विशुनपुरा प्रखंड के बीडीओ हीरक मन्ना करकेट्टा पर दो दिन पहले राजस्व उपनिरीक्षक जीतेंद्र कुमार के घर में घुसकर मारपीट करने का आरोप लगा था। इस संबंध में राजस्व उपनिरीक्षक ने उपायुक्त को आवेदन देकर कार्रवाई की मांग की थी। बताया जा रहा है कि वह इस बात से काफी परेशान थे।

बताया जा रहा है कि बीडीओ पहले से ही मानसिक रूप से असामान्य थे। डीसी को आवेदन देने के बाद वह काफी परेशान दिख रहे थे। घटना की सूचना मिलने पर डीसी समेत जिले के अधिकारी उनके सरकारी आवास पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली।

विशुनपुरा बीडीओ हीरक मन्ना केरकेट्टा द्वारा अपने सरकारी आवास में फांसी लगा लेने की घटना सुनकर लोग स्तब्ध हैं। जानकारी के अनुसार शनिवार की सुबह से ही बीडीओ आवास का दरवाजा बंद था। हस्ताक्षर लेने के लिए जब ब्लॉक कर्मचारी उनके सरकारी आवास पर पहुंचे तो दिन के तीन बजे तक दरवाजा बंद था। इसके बाद कर्मियों ने विशुनपुरा थाने को सूचना दी।

सूचना मिलते ही थाना प्रभारी राहुल सिंह बीडीओ आवास पहुंचे। सरकारी आवास की खिड़की से देखा गया तो बीडीओ का शव रस्सी से लटक रहा था। इसके बाद थाना प्रभारी ने वरीय पदाधिकारी को इसकी जानकारी दी। घटना को लेकर उपायुक्त शेखर जमुआर मौके पर पहुंचे और पूरे मामले की जानकारी ली। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

Garhwa Vishunpura BDO Suicide News