Breaking :
||पलामू: शहर में बिना अनुमति के जुलूस निकालने पर होगी कार्रवाई, रात 10 बजे के बाद डीजे बजाने पर रोक||लातेहार: मवेशियों से लदा ट्रक दुर्घटनाग्रस्त, ग्रामीणों ने एक तस्कर को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, डाल्टनगंज से खरीद कर रांची के मांस कारोबारी को जा रहे थे पहुंचाने||प्रेमिका से वीडियो कॉल पर बात करते प्रेमी ने दे दी जान||लातेहार: बालूमाथ में फिर एक विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, पुलिस जांच में जुटी||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, मायके वालों ने लगाया हत्या का आरोप||लातेहार: मनिका में सड़क निर्माण स्थल पर उग्रवादियों का हमला, JCB मशीन में लगायी आग||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी

ग्रामीणों ने पुलिस टीम पर किया हमला, ASI से की जमकर मारपीट, वर्दी फाड़ अर्धनग्न किया

सड़क दुर्घटना में शामिल पिकअप वैन मालिक को भगाने का आरोप

चतरा : जिला मुख्यालय से सटे सदर थाना क्षेत्र का सिंहपुर गांव मंगलवार को रणक्षेत्र में तब्दील हो गया। ग्रामीणों ने पुलिस कर्मियों पर हमला कर दिया। इस दौरान सदर थाने के एएसआई शशिकांत ठाकुर को ग्रामीणों ने बंधक बनाकर उनके साथ अभद्र व्यवहार किया। मारपीट के साथ ही वर्दी फाड़ दी और उन्हें अर्धनग्न कर दिया।

एएसआई को ग्रामीणों से मुक्त कराने के लिए पुलिसकर्मियों ने लाठी-डंडों का प्रयोग किया तो ग्रामीण उग्र हो गए और पथराव करने लगे। जिसमें पांच जवान घायल हो गए और तीन पुलिस वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। अथक प्रयास के बाद सहायक अवर निरीक्षक को ग्रामीणों से मुक्त कराया गया।

घटना का कारण सड़क हादसा बताया जा रहा है। आज सुबह करीब आठ बजे चंगेर नदी के पास पिकअप वैन और बाइक की सीधी टक्कर हो गयी। जिसमें डहुरी गांव के पप्पू भारती की मौके पर ही मौत हो गयी। जबकि बाइक सवार दो अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना की सूचना मिलने पर एएसआई शशिकांत ठाकुर दलबल को लेकर वहां पहुंचे और घायलों को इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजा और पिकअप को जब्त कर थाने ला रहे थे।

ग्रामीणों का आरोप है कि एएसआई पिकअप वैन के मालिक के साथ मिलकर उसे भगाने के लिए दूसरी सड़क से ले जा रहा था। इस मामले को लेकर ग्रामीणों ने पिकअप वैन को जब्त कर एएसआई को बंधक बना लिया। उसके बाद कुछ असामाजिक तत्वों ने उसके साथ मारपीट और अभद्र व्यवहार करना शुरू कर दिया। उनकी वर्दी फाड़ दी। घटना की सूचना मिलने पर जिला मुख्यालय से अतिरिक्त बल भेजा गया। इसके बाद पथराव की घटना हो गयी। काफी मशक्कत के बाद एएसआई को ग्रामीणों के चंगुल से छुड़ाया गया।