Breaking :
||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत||लातेहार: बारियातू में पेड़ से लटका मिला महिला का शव, जांच में जुटी पुलिस||गुमला में TSPC के चार उग्रवादी गिरफ्तार, हथियार और जिंदा कारतूस समेत अन्य सामान बरामद||चतरा: नक्सलियों की बड़ी साजिश नाकाम, दो सिलेंडर बम बरामद||मनी लॉन्ड्रिंग मामले में निलंबित मुख्य अभियंता वीरेंद्र राम की जमानत याचिका खारिज, पत्नी व पिता को भी नहीं मिली राहत||नहाय खाय के साथ सूर्योपासना का चार दिवसीय चैती छठ महापर्व शुरू||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में अनुपस्थित 56 मतदान कर्मियों को मिला आखिरी मौका, उपस्थित नहीं हुए तो होगी कार्रवाई
Sunday, April 14, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहारहेरहंज

लातेहार: जंगली हाथियों का आतंक, हेरहंज में ग्रामीण को कुचलकर मार डाला

नितीश कुमार यादव/हेरहंज

लातेहार : जिले के हेरहंज थाना क्षेत्र के हुम्बु गांव निवासी पुसन राम (70) को जंगली हाथियों ने कुचलकर मार डाला। रविवार को पुसन राम का शव हुम्बु गांव के बगल स्थित जंगल से बरामद किया गया। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस बल मौके पर पहुंचा और शव को कब्जे में लेकर पोस्मार्टम के लिए लातेहार सदर अस्पताल भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार, ग्रामीण पुसन राम शनिवार को अपने घर से डोरी चुनने के लिए जंगल गया था। लेकिन देर रात तक घर नहीं लौटा। परिजनों ने रात में उसे ढूंढने का प्रयास किया। लेकिन जंगल में हाथियों के जारी आतंक के कारण वे रात में जंगल में नहीं गये।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

रविवार की सुबह परिजन व अन्य ग्रामीण पुसन राम को खोजने जंगल गये तो वहां उसका शव पड़ा मिला। इसके बाद ग्रामीणों ने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस और वन विभाग के अधिकारियों को दी। वन विभाग के अधिकारी व कर्मी मौके पर पहुंचे और पूरे मामले की जांच कर पुष्टि की कि वृद्ध की मौत हाथी के हमले से हुई है।

इसके बाद मृतक के परिजनों को सरकारी प्रावधान के अनुसार बालूमाथ प्रभारी वनक्षेत्र पदाधिकारी राकेश कुमार ने मृतक के परिजनों को 40 हजार रुपये मुआवजे के रूप में उपलब्ध कराया। साथ ही कहा कि मुआवजे की बाकी रकम पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने और अन्य कागजी कार्रवाई पूरी होने के बाद दी जायेगी।

इधर ग्रामीणों ने बताया कि इस क्षेत्र में जंगली हाथियों का आतंक चरम पर पहुंच गया है। करीब 15-20 जंगली हाथी जंगलों में घूम रहे हैं और लगातार उत्पात मचा रहे हैं। ग्रामीणों ने वन विभाग से हाथियों को जंगल से भगाने की अपील की है।

मौके पर प्राभारी वनपाल शिकन्द्र राम, चिरु पंचायत के मुखिया हीरामणि लकड़ा, वन रक्षी शिवशंकर राम, अनुराग पांडेय, विजय शंकर शर्मा, पिन्टू कुमार, शिवशंकर राम, देवनाथ भगत समेत कई ग्रामीण मौजूद थे।