Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

लातेहार: 12 से 14 साल के बच्चों का टीकाकरण शुरू, लक्ष्य के अनुरूप टीकाकरण के निर्देश

लातेहार : उपायुक्त अबु इमरान के निर्देशानुसार उप विकास आयुक्त सुरेन्द्र कुमार वर्मा की अध्यक्षता में कोरोना संक्रमण के रोकथाम एवं स्वास्थ्य विभाग से संचालित योजनाओं की समीक्षा की गई।

इस क्रम में सीएस के द्वारा कोरोना संक्रमण के रोकथाम को लेकर स्वास्थ्य विभाग से किए जा रहे कार्य की जानकारी दी गई। बताया गया कि कोरोना टीकाकरण के सेकेंड एवं 12 से 14 वर्ष के बच्चों का आरंभ हो रहे टीकाकरण की जानकारी दी।

जिस पर उप विकास आयुक्त के द्वारा निर्देशित किया गया कि 12 से 14 वर्ष के बच्चों का पहले विद्यालय स्तर पर टीकाकरण करना सुनिश्चित करें एवं लक्ष्य को प्राप्त करें। वही सेकेंड डोज टीकाकरण का कार्य लक्ष्य के अनरूप नहीं होने पर उन्होंने अविलंब टीकाकरण शतप्रतिशत करने को लेकर सीएस को निर्देशित किया।

इस दौरान कोरोना जांच कार्य की भी समीक्षा की गई जिस पर पाया कि बरवाडीह प्रखंड में कोरोना जांच की गति काफी धीमी है। जिस पर उन्होंने कोरोना जांच की गति तेज करने का निर्देश दिया।

उन्होंने कहा कि कोरोना के रोकथाम के लिए जांच अतिआवश्यक है, जांच कार्य में लापरवाही नहीं बरते। समीक्षाक्रम में स्वास्थ्य विभाग से संचालित योजनाओं की भी समीक्षा की गई। बैठक में कुपोषित बच्चों को चिहिंत करने के लिए चलाए जा रहे समर अभियान की जानकारी दी गई। जिस पर उप विकास आयुक्त के द्वारा सभी एमओआइसी को निर्देशित किया गया कि अभियान के तहत चिहिंत कुपोषित बच्चों को अविलंब एमटीसी में भर्ती करना सुनिश्चित करें।

बैठक में उप विकास आयुुक्त को सीएस के द्वारा टीबी, कुष्ट एवं मलेरिया की रोकथाम के लिए विभाग से हो रहे कार्य की जानकारी दी। जिस पर उन्होंने निर्देशित किया कि टीबी एवं कुष्ट उन्मूलन कार्य को पूरी सजगता के साथ विभाग करे, ताकि जिला कुष्ट एवं टीबी रोग से मुक्त हो सके।

इस दौरान उन्होंने मलेरिया के लिए डीडीटी का छिड़काव ससमय करवाने का निर्देश दिया। समीक्षाक्रम में उप विकास आयुक्त के द्वारा स्वास्थ्य विभाग से संचालित अन्य कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

मौके पर सीएस डा हरेन्द्रचंद्र, डा नीलमणि, वेद प्रकाश समेत सभी प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी एवं स्वास्थ्य कर्मी मौजूद थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *